Naidunia
    Saturday, May 27, 2017
    PreviousNext

    गाड़ी से लालबत्ती हटाने पर बोले मंत्री-मुख्यमंत्री पहल करें

    Published: Mon, 20 Mar 2017 10:56 PM (IST) | Updated: Tue, 21 Mar 2017 08:08 AM (IST)
    By: Editorial Team
    redlight 2017320 23055 20 03 2017

    भोपाल। पंजाब और उप्र की तर्ज पर मुख्यमंत्री और मंत्रियों द्वारा लालबत्ती की गाड़ी नहीं लेने पर मप्र के कई मंत्रियों ने सहमति जताई है, लेकिन उनका कहना है कि पहल मुख्यमंत्री ही कर सकते हैं। इस मसले पर नईदुनिया ने कई मंत्रियों से बात की।

    अधिकतर ने गाड़ी में लालबत्ती नहीं लगाने पर सहमति जताई, लेकिन उन्होंने कहा कि इसका फैसला वे निजी तौर पर नहीं कर सकते। नेतृत्व को इसका फैसला लेना होगा। गौरतलब है कि पंजाब में मुख्यमंत्री बनने के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने वीआईपी कल्चर खत्म करने के लिए लालबत्ती की गाड़ी नहीं लेने का फैसला किया था। उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सरकार ने भी मुख्यमंत्री और मंत्रियों की गाड़ी में लालबत्ती नहीं लगाने का फैसला किया है।

    सामूहिक फैसला हो

    इस तरह का सामूहिक फैसला होता है तो कोई हर्ज नहीं है। हम क्षेत्र में होते हैं तो बत्ती और हूटर का उपयोग नहीं करते। - गोपाल भार्गव, पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री

    ये हमारा विषय नहीं

    मुझे लालबत्ती का कोई लोभ नहीं है, लेकिन यह फैसला मुख्यमंत्री को लेना है। यह हमारा विषय नहीं है। - पारस जैन, ऊर्जा मंत्री

    हटाना जरूरी नहीं

    लालबत्ती हटाना जरूरी नहीं है। वीआईपी कल्चर खत्म करने के लिए हमने गार्ड ऑफ ऑनर खत्म किया है।- जयंत मलैया, वित्त मंत्री

    समय बचता है

    पंजाब और मप्र अलग-अलग है। इससे दौरे में समय बचता है। बाकि जो फैसला मुख्यमंत्री लेंगे, वही होगा। - गौरीशंकर शेजवार, वन मंत्री

    अकेला क्या करूं

    व्यक्तिगत रूप से लालबत्ती हटाने का पक्षधर हूं, लेकिन अकेेला कुछ नहीं कर सकता। राज्य सरकार के प्रोटोकॉल से बंधा हूं। - दीपक जोशी, तकनीकी शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार)

    स्वेच्छा का मतलब नहीं

    पंजाब और मप्र की परिस्थितियां अलग हैं। इस मामले में नेतृत्व का निर्णय महत्वपूर्ण है, मेरी स्वेच्छा मायने नहीं रखती। - लाल सिंह आर्य, सामान्य प्रशासन राज्य मंत्री

    मैं तो छोटा मंत्री हूं

    लाल बत्ती खत्म हो जाए तो हमें कोई आपत्ति नहीं है। अच्छा ही होगा, लेकिन मैं सबसे छोटा मंत्री हूं, इसलिए अगुवाई नहीं कर सकता। - सूर्य प्रकाश मीणा, उद्यानिकी और खाद्य प्रसंस्करण मंत्री (स्वतंत्र प्रभार)

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी