Naidunia
    Thursday, October 19, 2017
    PreviousNext

    बाघिन ने घूरकर देखा तो चौकीदार ने जंगल में गश्त करने से किया इनकार

    Published: Thu, 12 Oct 2017 07:13 AM (IST) | Updated: Thu, 12 Oct 2017 12:29 PM (IST)
    By: Editorial Team
    tigress mp bhopal 20171012 122759 12 10 2017

    भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। राजधानी से सटे समरधा के जंगल में बाघिन टी-123 सक्रिय है। जंगल की गश्ती करने गए चौकीदार बस्तीराम का बाघिन से सामना हो गया। बाघिन को देख घबराए चौकीदार के पैरों के नीचे से जमीन खिसक गई, लेकिन बाघिन ने उसे घूर कर देखा और रास्ता बदलकर आगे चली गई। चौकीदार घटनाक्रम के बाद से डरा हुआ है। उसने जंगल में अकेले गश्ती पर जाने से मना कर दिया है। घटना सोमवार सुबह 7 बजे की है।

    चौकीदार के हवाले से वन विभाग के एक अधिकारी ने बताया बस्तीराम रोज की तरह गश्ती कर रहा था। वह सोमवार सुबह 7 बजे कलियासोत रोड पर 13 शटर गेट से 2 किलोमीटर अंदर जंगल में था। इस क्षेत्र में बाघिन टी-123 का मूवमेंट है। वह अचानक चौकीदार के सामने आ गई।

    मुझे लगा, अब मैं नहीं बच पाऊंगा

    मैं गश्ती कर रहा था। मेरे सामने बाघिन आ गई। यह देख मैं घबरा गया और मेरे हाथ-पांव कांपने लगे। मैं न पीछे हट पा रहा था और न आगे बढ़ सकता था। मुझे लगा आज मेरा आखिरी दिन है, लेकिन कुछ ही समय में बाघिन ने अपना रास्ता बदल लिया और आगे बढ़ने लगी। यह देख मेरी जान में जान आई। - बस्तीराम, चौकीदार समरधा रेंज

    चौकीदार ने हिम्मत दिखाई

    जब भी किसी व्यक्ति के सामने कोई वन्यप्राणी आता है तो वह उससे डरकर भागने लगता है। यदि चौकीदार भागने लगता तो बाघिन हमला कर सकती थी, लेकिन चौकीदार ने हिम्मत दिखाई। इसी का नतीजा है कि बाघिन ने खुद का रास्ता बदल लिया। -आरके दीक्षित, सेवानिवृत्त वन्यप्राणी विशेषज्ञ

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें