Naidunia
    Monday, December 11, 2017
    PreviousNext

    रूपये की बरसात करने के लिए काटे थे तेंदुए के पंजे

    Published: Thu, 07 Dec 2017 05:27 PM (IST) | Updated: Thu, 07 Dec 2017 05:43 PM (IST)
    By: Editorial Team
    leopard-02 07 12 2017

    छिंदवाड़ा। परासिया परिक्षेत्र के दरबई गांव में कुछ दिन पहले तेंदुए का शिकार किए जाने के बाद शिकारियों ने कुएं में तेंदुए का शव फेंक दिया था। इस दौरान जब वन विभाग की टीम ने शव को बरामद किया था। उस समय तेंदुए के चारों पंजे कटे हुए थे। जिससे वनाधिकारियों ने संभावना जताई कि शिकारियों ने रुपयों की बरसात करवाने के लिए पंजे काटे थे। हालांकि अब तक वन विभाग की जांच टीम शिकारियों तक नहीं पहुंच पाए है। लेकिन अब अग्रिम जांच के लिए वन विभाग फॉरेंसिक टीम की मदद ले रही है। जो जल्द ही सतपुड़ा नेशनल पार्क से आएगी।

    पश्चिम वनमंडल के तहत आने वाले परासिया रेंज के दरबई गांव में कुछ दिन पहले एक तेंदुए का शव कुएं में मिला था। कुएं में मिले शव के बाद जब वन विभाग की टीम ने जांच पड़ताल की तो तेंदुए का करंट से शिकार किए जाने के साथ-साथ उसके चारों पंजे को कटे पाएं गए।

    इस मामले में वनाधिकारियों का अनुमान है कि अज्ञात शिकारियों ने करंट से शिकार करने के बाद रुपयों की बरसात के लिए तेंदुए के पंजे काटे है। दरअसल ग्रामीण इलाकों में ये मान्यता है कि तेंदुए, बाघ जैसे वन्यप्राणियों का पंजा मिलने से रूपयों की बारिश होती है।

    अज्ञात व्यक्ति पर वन अपराध पंजीबद्ध करने के बाद से लगातार विभाग की टीम शिकारियों की तलाश कर रही है। लेकिन अब तक शिकारी वन विभाग की गिरफ्त से दूर है। जिसके बाद वन विभाग द्वारा सतपुड़ा पार्क की विशेष जांच टीम का सहारा लेकर मामले के आरोपियों का पता करेंगी। यह जांच फॉरेंसिक रूप से की जाएगी।

    आरोपियों का पता नहीं चला

    अब तक आरोपियों का पता नहीं चल पाया है। अब जांच फॉरेंसिक टीम के माध्यम से की जाएगी। जल्द ही तेंदुए शिकार के आरोपी विभाग की गिरफ्त में होंगे - अनादि बुधोलिया, एसडीओ, परासिया

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें