Naidunia
    Thursday, April 27, 2017
    PreviousNext

    घटना के तीन घंटे बाद भी शवों से उठ रही थी आग की लपटें

    Published: Fri, 21 Apr 2017 08:23 PM (IST) | Updated: Fri, 21 Apr 2017 08:27 PM (IST)
    By: Editorial Team
    fireinchhindwara 21 04 2017

    छिंदवाड़ा/हर्रई। जिले के हर्रई के बारगी स्थित सहकारी समिति केंद्र पर घटना के तीन घंटे बाद भी मौेके पर पड़े शवों से आग की लपटें उठ रही थीं। आग लगने की सूचना तत्काल प्रशासन को दी गई, लेकिन एक घंटे बाद फायर ब्रिगेड पहुंची।

    चूंकि हर्रई नगर पंचायत में एक ही फायर ब्रिगेड है, इसलिए पानी खत्म होने पर बार-बार फायर बिग्रेड को जाना पड़ रहा था। करीब ढाई घंटे बाद अमरवाड़ा से फायर ब्रिगेड भेजी गई। रात सवा आठ बजे तक आग पूरी तरह से बुझी नहीं थी।

    कमरे में हीट इतनी कि कोई घुस न सका, जेसीबी से दीवार तोड़कर निकाले शव

    सोसायटी के कक्ष में आग लगने के बाद फायरब्रिगेड से भले बुझा ली गई, लेकिन हीट इतनी थी कि कोई भी घुसने की हिम्मत नहीं कर पा रहा था। बाद में जेसीबी से दीवार तोड़कर शव निकाले गए और घायलों को जिला अस्पताल भेजा गया।

    ग्रामीण बोले- बिजली होती तो इतनी बड़ी घटना होने से बच जाती

    बारगी गांव के योगेश शर्मा ने नवदुनिया को बताया कि यदि बिजली होती तो इतनी बड़ी घटना टाली जा सकती थी, क्योंकि सोसायटी के सामने ही एक बोर है। लेकिन आगनजी की घटना के समय बिजली बंद होने से बोर चालू नहीं हो सका। योगेश ने बताया कि पिछले तीन चार दिनों से हर्रई के बिजली अधिकारियों को फोन लगा रहे थे। लेकिन उन्होंने नहीं सुनी।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी