Naidunia
    Sunday, November 19, 2017
    PreviousNext

    पुलिस और फॉरेंसिक टीम ने की 'ली' शोरूम की छानबीन

    Published: Sat, 22 Apr 2017 03:58 AM (IST) | Updated: Sat, 22 Apr 2017 03:58 AM (IST)
    By: Editorial Team

    इंदौर। नईदुनिया प्रतिनिधि

    ट्रेजर आईलैंड के 'ली' शोरूम में छात्रा का वीडियो बनाए जाने की घटना से पुलिस-प्रशासन में हड़कंप मच गया। शुक्रवार को पुलिस और फोरेंसिक अफसर मॉल पहुंचे और घंटों छानबीन की। पुलिस ने शोरूम कर्मचारियों से अलग-अलग पूछताछ की।

    तुकोगंज पुलिस के मुताबिक सरस्वती नगर निवासी छात्रा गुरुवार दोपहर ट्रेजर आईलैंड स्थित 'ली' शोरूम में पकड़ों की ट्रायल ले रही थी। तभी मैनेजर शाहिद कुरैशी उसका वीडियो बनाने लगा। पैर से मोबाइल टकराने के कारण छात्रा को पता चला और उसने पुलिस को सूचित किया। टीआई के मुताबिक शाहिद को गिरफ्तार कर मोबाइल जब्त कर लिया है। शुक्रवार दोपहर महिला पुलिसकर्मी और फोरेंसिक टीम ने घटना स्थल की छानबीन की। पुलिस ने कर्मचारी तनवीर और नावेद के भी बयान लिए। जांच के दौरान शोरूम में कई खामियां पाई गई हैं। पुलिस कंपनी क्रिस रिटेल प्रालि मुंबई) को नोटिस जारी कर रही है। आरोपी के मोबाइल की भी जांच करवाई जा रही है। आरोपी ने बताया कि वह वीडियो बनाने की कोशिश कर रहा था।

    शोरूम पर जड़े ताले, कर्मचारी नदारद

    नईदुनिया द्वारा घटना को प्रमुखता से उजागर करते ही शुक्रवार को कर्मचारी शोरूम बंद कर नदारद हो गए। दोपहर को पुलिस मॉल पहुंची और केयर टेकर को बुलाया। मॉल प्रबंधन ने भी शोरूम संचालक को नोटिस जारी किया है। संचालक पिंटू छाबड़ा के मुताबिक शोरूम का एग्रीमेंट कंपनी से था। प्रबंधन ने जवाब मांगा है। आरोपी शाहिद के प्रवेश पर स्थायी प्रतिबंध लगा दिया गया है।

    ऐसे पता करें खुफिया कैमरों की मौजदगी

    - अगर ट्रायल रूम या बाथरूम में मोबाइल नेटवर्क गायब हो जाए तो वहां कैमरा छुपा हो सकता है। संहेद होने पर मोबाइल से कॉल करें। कैमरे की संभावित जगह मोबाइल घुमाए। फोन में बीप और तरंगे आने लगे तो समझिए वहां कैमरा लगा हुआ है।

    - मार्केट में डबल स्टैंडर्ड वाले शीशे आने लगे हैं। इनमें दूसरी साइड से आप को कोई भी देख सकता है लेकिन आप उसे नहीं देख सकते। पहचान करने के लिए शीशे पर अंगुली का नाखून रखें। आपके नाखून और शीशे में दिखाई देने वाला नाखून मिल जाए तो समझिए शीशा डबल स्टैंडर्ड है। शीशे को नॉक कर भी जांचा जा सकता है। डबल स्टैंडर्ड शीशे में नॉक करने पर खाली डिब्बे की तरह आवाज आती है।

    - रूम में अंधेरा कर चारों तरफ ध्यान से देखें। अगर छोटी लाल या हरे रंग की लाइट जल रही है तो वहां निश्चित तौर पर कैमरा छुपा है।

    - कुछ कैमरे संवेदनशील होते हैं। जरा सी आहट में ऑन हो जाते हैं। उनमें से हल्की बीप सुनाई देती है।

    - दरवाजे, खिड़कियां, दीवार के सुराख, रोशनदान, की-होल को जरूर देखें। ज्यादातर कैमरे खाली जगह में लगे होते हैं।

    - स्मार्ट फोन में गूगल प्ले स्टोर से हिडन कैमरा डिटेक्टर एप डाउनलोड कर फोन को कैमरे वाली संभावित जगह ले जाएं। कैमरा छुपा होने की स्थिति में यलो या रेड लाइट जलने लगती है।

    और जानें :  # crime
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें