Naidunia
    Saturday, November 25, 2017
    PreviousNext

    बकरी के विवाद पर भिड़े बंजारों के दो गुट, पुलिस पर पिटाई का आरोप

    Published: Wed, 15 Nov 2017 08:12 PM (IST) | Updated: Wed, 15 Nov 2017 08:12 PM (IST)
    By: Editorial Team

    दमोह। नईदुनिया प्रतिनिधि

    हटा ब्लॉक के रजपुरा थाना अंतर्गत आने वाले हरदूटोला गांव में बुधवार को बंजारा समाज के दो गुट आपस में भिड़ गए। उनके बीच खूनी संघर्ष हुआ। एक पक्ष घायल युवक को लेकर सीधे एसपी विवेक अग्रवाल के पास पहुंचा और दूसरे पक्ष के साथ पुलिस पर मारपीट का आरोप लगाया। वहीं कुछ देर बाद दूसरे पक्ष से भी लोग एसपी के पास पहुंचे और लगाए गए आरोपों को झूठा बताते हुए पुलिस पर भी पथराव करने की शिकायत दर्ज कराई। एसपी ने मामले की जांच के लिए कहा है।

    दोपहर में बंजारा समाज के दर्जनों महिला-पुरुष एसपी कार्यालय पहुंचे। उनके साथ चितरा बंजारा नामक एक युवक भी था जिसे काफी चोटें आई थीं। एसपी से मिलने के बाद एएसपी अरविंद दुबे ने उस घायल को जिला अस्पताल भिजवाया और उसके बाद उन लोगों से शिकायती आवेदन देने के लिए कहा। कुछ देर बाद दूसरे पक्ष ने भी यहां पहुंचकर आवेदन दिया।

    बकरी चोरी के आरोप में की पिटाई

    दमोह पहुंचे घायल युवक चितरा की बहन भूरीबाई ने बताया कि बीते शुक्रवार को आरोपी प्रेमा बंजारा ने उसके भाई के साथ यह आरोप लगाते हुए मारपीट की थी कि उसने उसकी बकरी चोरी की है। मारपीट के बाद उन्होंने पुलिस में रिपोर्ट की थी। पुलिस ने रिपोर्ट के बाद मुलायजा तो कराया, लेकिन आरोपियों पर कोई कार्रवाई नहीं की। बुधवार सुबह उसका भाई खेत से घर आ रहा था तभी आरोपी व उसके परिजन ने जिनमें महिलाएं भी शामिल थीं, सभी ने मिलकर उसके साथ मारपीट की और उसके बाद उसके हाथ-पैर बांध दिए। इसके बाद पुलिस को बुला लिया। उन्हें सूचना मिली तो वहां जाकर देखा कि उसका भाई बंधा हुआ है और आरोपी व पुलिस उसके साथ मारपीट कर रहे हैं। बड़ी मुश्किल से वह अपने भाई की जान बचा पाई।

    बकरी चुराई और फिर पुलिस पर किया पथराव

    दूसरे पक्ष के भामा बंजारा ने एसपी से शिकायत की है कि उनके बेटे प्रेमा बंजारा पर झूठा आरोप लगाकर उसे फंसाने का प्रयास किया जा रहा है। आरोपियों ने उसके बेटे से मारपीट की और जब उन्होंने पुलिस को मदद के लिए बुलाया तो आरोपियों ने पुलिस पर भी पथराव कर दिया। एक पुलिसकर्मी की लाठी छीनकर उसे मारी। उसने कहा कि झूठे आरोप लगाकर उन्हें फंसाने की साजिश की जा रही है। उसने एसपी से अनुरोध किया है कि उचित कार्रवाई कर दोषियों को सजा दी जाए।

    न हमने किसी को पीटा न किसी ने हमपर पथराव किया

    रजपुरा थाना प्रभारी मनोज गोयल का कहना है कि पुलिस को बंजारा जाति के लोगों के बीच विवाद की सूचना मिली थी। वह पहुंचे तो दोनों पक्ष झगड़ रहे थे। उन्होंने उन्हें अलग-अलग किया। पुलिस ने किसी के साथ भी मारपीट नहीं की है। ये आरोप गलत है। वहीं ये बात भी गलत है कि किसी ने पुलिस पर पथराव किया और वाहन के कांच तोड़े। पुलिस ने दोनों पक्षों को समझाया और उनका विवाद शांत कराने का प्रयास किया। पुलिस ने बताया कि बंजारा जाति के दो पक्ष हैं उनके बीच एक जमीन को लेकर विवाद चल रहा है, उसी विवाद को इस तरह रंग दिया जा रहा है। बीते शुक्रवार को प्रेमा बंजारा के खिलाफ मारपीट की शिकायत दूसरे पक्ष ने की थी जिसमें धारा 323, 324, 294, 506 बी के तहत अपराध दर्ज किया गया है।

    और जानें :  # Damoh news
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें