Naidunia
    Monday, November 20, 2017
    PreviousNext

    डीलरों ने की शिकायत, कहा सिस्टम में नहीं हुई वाहनो की राशि अपडेट

    Published: Mon, 17 Jul 2017 06:17 PM (IST) | Updated: Tue, 18 Jul 2017 10:07 AM (IST)
    By: Editorial Team
    bike 17 07 2017

    इंदौर। जीएसटी के चलते वाहनों की कीमतों में हुई कमी का लाभ स्मार्टचिप कंपनी की गलती के कारण नए वाहन खरीदने वालों को नहीं मिल पा रहा है। दरअसल सिस्टम में अभी भी वाहनों की पुरानी कीमत ही दर्ज है। जिससे सिस्टम में पुराने नियम के अनुसार ही टैक्स वसूला जा रहा है। अभी तक उसी हिसाब से टैक्स वसूली की जा रही है। डीलरों ने आरटीओ को इस संबध में शिकायत भी की है।

    जानकारी के मुताबिक डीलरों ने अपनी शिकायत में कहा है कि वाहन कंपनियों ने अपनी गाडियों के दाम घटा दिए है। दो पहिया और चार पहिया वाहनों में कम की गई राशी ढाई हजार से लेकर 1 लाख तक है। लेकिन परिवहन विभाग के सॉफ्टवेयर में अब रेट कम नहीं हुए है। जिससे दिक्कत आ रही है।

    लोग जीएसटी से हुए लाभ के चलते गाड़ी खरीद रहे है। लेकिन जब टैक्स भरने की बात आ रही है,तो उन्हें पुरानी कीमत पर ही टैक्स भरना पड़ रहा है। आरटीओ ने बताया कि इस मामले में ग्वालियर स्थित मुख्यालय पर चर्चा की गई है। पता किया जा रहा है कि आखिर ऐसा क्यों हो रहा है। जल्द ही यह समस्या हल हो जाएगी।

    ऐसे लिया जाता है टैक्स

    परिवहन विभाग के नियम के मुताबिक विभाग अपने सिस्टम में वाहन कंपनी के हर मॉडल की कीमत अपडेट रहती है। कंपनी से मिली लिस्ट के अनुसार इसी कीमत पर ही वाहन की श्रेणी के अनुसार 7 से लेकर 10 प्रतिशत का टैक्स लिया जाता है।

    जानकारी के मुताबिक शौरूम द्वारा चलाए जाने वाले विशेष छूट ऑफर में भी गाड़ी कम कीमत पर दी जाती है। लेकिन टैक्स परिवहन विभाग के टैक्स में दर्ज असली कीमत पर ही लिया जाता है। जैसे कोई कार एक लाख के डिस्कांउट पर 3 लाख में मिल रही है,लेकिन कार खरीदने वाले को सिस्टम में दर्ज चार लाख की कीमत पर ही टैक्स देना होगा।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें