Naidunia
    Tuesday, November 21, 2017
    PreviousNext

    बिजली कंपनी की लापरवाही से 12 दिन से अंधेरे में बड़ाखेत के ग्रामीण

    Published: Tue, 20 Jun 2017 10:49 PM (IST) | Updated: Tue, 20 Jun 2017 10:49 PM (IST)
    By: Editorial Team

    -आंधी से गिरे खंभे अभी भी पड़े हैं खेतों में, विभाग नहीं रहा सुध-

    -खेतीबाड़ी का काम भी हो रहा प्रभावित

    कुसमानिया। नईदुनिया न्यूज

    ग्राम पंचायत नांदोन के आदिवासी ग्राम बड़ाखेत में 9 जून को क्षेत्र में आई आंधी ने 11 केवी के 5 खंभों को धराशायी कर दिया था। ये खंभे आज भी यथास्थान पर पड़े हुए हैं। जिम्मेदारों ने अभी तक इन्हें हटाने की तकलीफ नहीं उठाई न ही बिजली सप्लाई शुरू हुई है। इससे 500 की आबादी वाला गांव 12 दिनों से अंधेरे में डूबा है तो खेतों में खंभे पड़े होने से खेतीबाड़ी के कार्य प्रभावित हो रहा है।

    जानकारी के अनुसार यहां 5 खंभे किसानों के घर व खेत में गिर गए थे। ये खंभे चार-पांच माह पूर्व ही लगाए गए थे। फिलहाल तो सुधार कार्य नहीं होने से बिजली सप्लाय भी बंद है। इससे 57 परिवारों के 500 से अधिक लोग अंधेरे में जीवन यापन कर रहे हैं। ग्रामीण सोमारिया बारेला व मोहनसिंह बारेला ने बताया कि आंधी से खंभे तार सहित जमीन पर गिर गए थे और कुछ खंभे खेतों में तिरछे हो गए हैं। कई दिन बीतने के बाद भी जिम्मेदारों ने इसकी सुध नहीं ली। हमारे खेत में बने घर के सामने आज भी खंभे उसी अवस्था में पड़े हैं। आंगन में गिरे तारों से कामकाज प्रभावित हो रहे हैं। खेत में हम बोवनी भी नहीं कर पा रहे हैं। इन किसानों का कहना है कि यदि हम तार हटाकर बोवनी कर भी दे, लेकिन नए खंभे लगाते समय फसल नष्ट हो जाएगी।

    जंगली जानवरों का डर भी रहता है

    भंवरसिंह बारेला ने बताया कि हमारे गांव में 4 माह पूर्व पहली बार बिजली आई थी। इससे पहले 1 किमी दूर स्थित खेतों से बांस बल्लियों के सहारे बिजली लेकर घरों में रोशनी कर रहे थे। आज फिर पहले जैसी स्थिति में गांव पहुंच चुका है। बारेला ने बताया कि गांव खिवनी अभ्यारण्य के कक्ष क्रमांक 185 के जंगल से लगा हुआ है, जहां रात में जंगली जानवरों के साथ जीव-जंतु का डर बना रहता है। तेलमसिंह ने बताया कि मैंने कई बार बिजली विभाग के अधिकारियों से चर्चा की, लेकिन उन्होंने यह कहकर पल्ला झाड़ लिया कि ठेकेदार से कहकर कार्य करवाता हूं। इस प्रकार की अनदेखी से ग्रामीणों में रोष है।

    वर्जन-

    एक-दो दिनों में सप्लाय चालू होगी

    इस संबंध में विद्युत वितरण कंपनी के एई गौरव संतोषी का कहना है कि आंधी के दौरान बिजली के खंभे गिर गए थे। मैंने लाइनमैन को व्यवस्था सुधारने के निर्देश दिए हैं। एक-दो दिनों में नए खंभे लगाकर बिजली सप्लाय चालू कर दी जाएगी।

    और जानें :  # dewas. bijli
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें