Naidunia
    Sunday, September 24, 2017
    PreviousNext

    मध्यस्थता से बलराम और रेखाबाई फिर हुए एक

    Published: Fri, 17 Feb 2017 04:03 AM (IST) | Updated: Fri, 17 Feb 2017 04:03 AM (IST)
    By: Editorial Team

    -पति ने दांपत्य अधिकारों की पुनर्स्थापना के लिए न्यायालय में प्रस्तुत किया था परिवाद

    बागली। निज प्रतिनिधि

    अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश मनीषा बसेर के न्यायालय में दाखिल दांपत्य संबंधों की पुर्नस्थापना के परिवाद का गुरुवार को सुखद परिणाम निकला। दोनों पक्षों के अधिवक्ताओं व न्यायालय की मध्यस्थता के चलते पति-पत्नी ने भावी जीवन साथ में व्यतीत करने का फैसला किया। इससे 9 वर्ष पुराने दांपत्य संबंधों की बहाली हुई।

    जानकारी के मुताबिक ग्राम पंचायत अंबाझर निवासी बलरामसिंह बंजारा ने अपनी पत्नी रेखाबाई निवासी बड़वाह के साथ दांपत्य अधिकारों की पुर्नस्थापना को लेकर एक परिवाद प्रस्तुत किया था। इस दौरान बलराम ने अनुविभागीय अधिकारी राजस्व के कार्यालय से रेखा का सर्च वारंट निकलवाकर उसकी तलाश भी करवाई थी। रेखा को ससुराल में सास-ससुर द्वारा प्रताड़ित कर तानकशी की जाती थी। साथ ही उसके अनुसार उसका पति भी कोई काम धंधा नहीं करता था। दोनों के विवाह को 9 वर्ष हो चुके थे। इनकी दो पुत्रियां अर्पिता व अंजली भी है। विवाह संबंध विच्छेद होने के दौरान रेखाबाई लगभग एक वर्ष तक अपने मायके में रही थी। इस दौरान उसने मौखिक रूप से बलराम के घर पुनः लौटने की बात भी कही थी। वहीं बलराम ने रेखाबाई के माता-पिता पर उसे ससुराल न भेजने के लिए दबाव बनाने का आरोप भी लगाया था। मामले को न्यायाधीश बसेर ने मध्यस्थता के लिए न्यायिक दंडाधिकारी प्रथम श्रेणी आरती ढींगरा के न्यायालय में भेजा था। इसमें न्यायाधीश ढींगरा की मध्यस्थता व अतिरिक्त मुख्य न्यायाधीश राजेंद्रसिंह ठाकुर सहित बलराम के अधिवक्ता सूर्यप्रकाश गुप्ता व मयंक गुप्ता एवं रेखाबाई के अधिवक्ता विजय व्यास की समझाइश पर रेखाबाई बलराम के साथ विवाह संबंध बहाल करने पर सहमत हो गई। दोनों ही अपनी पुत्रियों के बेहतर भविष्य व शिक्षा के लिए साथ में रहने के लिए सहमत हुए। न्यायाधीश ढींगरा ने रेखाबाई को आश्वस्त करते हुए कहा कि यदि उसे कोई भी परेशानी आए या कोई प्रताड़ित करे तो वह न्यायालय की शरण ले सकती है।

    और जानें :  # dewas # bagli
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें