Naidunia
    Tuesday, June 27, 2017
    PreviousNext

    सीएम हेल्पलाइन से जुड़ी जनसुनवाई, खबर मिलते ही बढ़ गई आवेदकों की संख्या

    Published: Tue, 20 Jun 2017 09:29 PM (IST) | Updated: Tue, 20 Jun 2017 09:29 PM (IST)
    By: Editorial Team

    -जनसुनवाई में मंगलवार को बढ़ी भीड़, नियम बताकर समझाया आवेदकों को

    देवास। नईदुनिया प्रतिनिधि

    मंगलवार को जनसुनवाई में आम जनसुनवाई की तुलना में भारी भीड़ रही। 1 बजे तक बैठने वाले अफसर 1.30 बजे तक डटे रहे। वजह यह रही कि मंगलवार से जनसुनवाई सीएम हेल्पलाइन से जुड़ गई। इसके चलते सीएम हेल्पलाइन में शिकायत दर्ज करवाने वाले सैकड़ों लोग पहुंच गए। उन्हें लगा था कि सीएम हेल्पलाइन की शिकायतों का निराकरण भी यहीं से होगा। इसके बाद अफसरों को अपनी शिकायत बताने लगे। बाद में उन्हें विस्तार से समझाया गया।

    आमजन की शिकायतों के निराकरण में गुणवत्ता लाने और नागरिकों की संतुष्टि के लिए शासन ने सीएम हेल्पलाइन को जनसुनवाई से जोड़कर एकीकृत कर दिया है। मंगलवार को प्राप्त आवेदनों को ऑनलाइन सीएम हेल्पलाइन पोर्टल पर फीड किया गया। आवेदक सीएम हेल्पलाइन से ऑनलाइन एवं कॉल सेंटर के टोल फ्री नंबर 181 से अपने आवेदन के संबंध में जानकारी प्राप्त कर सकेंगे। मल्हार स्मृति मंदिर सभागार में हुई जनसुनवाई में कलेक्टर आशुतोष अवस्थी व एसपी अंशुमान सिंह ने आवेदकों की समस्याएं सुनीं।

    देवास से इंदौर, इंदौर से दिल्ली रैफर, इलाज के लिए नहीं है रुपए

    आवेदक राकेश पिता बाबूलाल निवासी पीपलरावां ने बताया कि उसे सांस लेने तकलीफ हो रही थी। जिसका जिला चिकित्सालय में इलाज करवाया। जब बीमारी गंभीर पाई गई तो इंदौर स्थित एमवाय अस्पताल में इलाज हेतु भेजा गया। वहां से इलाज करवाने के लिए दिल्ली रैफर किया गया है। वह गरीब आदमी है तथा मजदूरी करके उसे अपने परिवार का पालन कर रहा है। उसे आर्थिक सहायता प्रदान की जाए। आवेदन पर कलेक्टर ने रेडक्रॉस सोसायटी के माध्यम से दो हजार रुपए स्वीकृत किए।

    रास्ते को किया बंद

    आवेदक नाथूसिंह सेवाजी निवासी ग्राम डकाच्या तहसील सोनकच्छ ने बताया कि उसके खेत में जाने वाले रास्ते को कुछ लोगों ने बंद कर दिया है। इससे उसे व अन्य किसानों को खेतों पर जाने में परेशानियों का सामना करना पड़ा रहा है। उक्त रास्ते को खुलवाया जाए।

    स्कूल संचालक नहीं दे रहे टीसी

    मंजूबाई पति सौदानसिंह निवासी शांति नगर अमोना ने बताया कि वह गरीब परिवार से है। उसकी बालिका ने वहीं के इंग्लिश मीडियम स्कूल में कक्षा 2री से 5वीं तक पढ़ाई की है। उसकी बालिका ने 5वीं उत्तीर्ण कर ली है। उसे अन्य स्कूल में प्रवेश के लिए मार्कशीट एवं टीसी की आवश्यकता है, लेकिन स्कूल प्रबंधन द्वारा उसे मार्कशीट एवं टीसी नहीं दी जा रही है। उसे मार्कशीट एवं टीसी दिलाई जाए। कलेक्टर ने शिक्षा विभाग को जांच कर कार्रवाई के निर्देश दिए।

    छात्रवृत्ति दिलाई जाए

    आवेदक अश्विन तिवारी निवासी ढांचा भवन देवास ने बताया कि वह गरीब परिवार से है तथा उसके पिता का स्वर्गवास हो गया है। वह आगे पढ़ना चाहता है। उसे पढ़ाई के लिए छात्रवृत्ति प्रदान की जाए। इसी तरह आवेदक रहमत पिता कालू निवासी ग्राम लोहारी तहसील देवास ने बताया कि वह उसकी भूमि का सीमांकन करवाना चाहता है। भूमि का सीमांकन करवाया जाए। आवेदन पर कलेक्टर ने संबंधित विभाग को कार्रवाई के निर्देश दिए।

    और जानें :  # dewas. jansunvai
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी