lRo=wrlgt Œr;rlr" yc cåatü fUtu ôfqU˜ stlu bü ytlk= ytYdt> WlfUt cturS˜ bl ytlk=bge Jt;tJhK mu ŒVwUrÖ˜; ntudt> rNGfU Ce cåatü fUtu ytlk= ctkxüdu, ;trfU cåau ;ltJbwÿU ntufUh ôfqU˜ mu sw\zü 1208756"> lRo=wrlgt Œr;rlr" yc cåatü fUtu ôfqU˜ stlu bü ytlk= ytYdt> WlfUt cturS˜ bl ytlk=bge Jt;tJhK mu ŒVwUrÖ˜; ntudt> rNGfU Ce cåatü fUtu ytlk= ctkxüdu, ;trfU cåau ;ltJbwÿU ntufUh ôfqU˜ mu sw\zü"/> lRo=wrlgt Œr;rlr" yc cåatü fUtu ôfqU˜ stlu bü ytlk= ytYdt> WlfUt cturS˜ bl ytlk=bge Jt;tJhK mu ŒVwUrÖ˜; ntudt> rNGfU Ce cåatü fUtu ytlk= ctkxüdu, ;trfU cåau ;ltJbwÿU ntufUh ôfqU˜ mu sw\zü" />
    Naidunia
    Saturday, June 24, 2017
    PreviousNext

    अब बोझ नहीं लगेगा स्कूल जाना, मिलेगा आनंदमयी वातावरण

    Published: Tue, 20 Jun 2017 09:19 PM (IST) | Updated: Tue, 20 Jun 2017 09:19 PM (IST)
    By: Editorial Team

    -स्कूल रेडीनेस प्रोग्राम शुरू, 30 जून तक होंगे विविध आयोजन

    -बच्चों को तनावमुक्त कर स्कूलों में उनकी उपस्थिति बढ़ाने के मकसद से शुरू किया गया कार्यक्रम

    देवास। नईदुनिया प्रतिनिधि

    अब बच्चों को स्कूल जाने में आनंद आएगा। उनका बोझिल मन आनंदमयी वातावरण से प्रफुल्लित होगा। शिक्षक भी बच्चों को आनंद बांटेंगे, ताकि बच्चे तनावमुक्त होकर स्कूल से जुड़ें और उनकी उपस्थिति लगातार रहे। यह सब संभव होगा स्कूल रेडीनेस प्रोग्राम से। इसके तहत प्रायमरी और मिडिल स्कूलों में तरह-तरह की गतिविधियां आयोजित की जाएंगी। दरअसल स्कूल शिक्षा विभाग ने बच्चों को स्कूलों में आनंदमयी वातारवण मुहैया करवाने के मकसद से स्कूल रेडीनेस नामक प्रोग्राम शुरू किया है। शैक्षणिक सत्र की शुरुआत से ही इसे लागू किया गया है। 30 जून तक प्रतिदिन यह कार्यक्रम चलेगा। विभिन्ना कक्षाओं में प्रवेशित विद्यार्थियों को स्कूल में आने में खुशी हो इसके लिए शिक्षकों को भी इसकी जिम्मेदारी दी गई है।

    बनेगी बाल कैबिनेट, होंगे खेलकूद

    स्कूलों में बधाों की रुचि के अनुसार कार्यक्रम होंगे। इसमें कविता पाठ और उनकी आयु के मुताबिक खेलकूद गतिविधियां आयोजित की जाएंगी। इसी के साथ बाल कैबिनेट का गठन भी किया जाएगा। शिक्षक छात्रों को बाल कैबिनेट के कार्यों की जानकारी देंगे। यह भी तय किया गया है कि प्रवेशोत्सव के दौरान स्कूलों में अनुपस्थित रहने वाले छात्रों के घरों में भी शिक्षकों को संपर्क करना होगा। इसी तरह स्कूल में शिक्षकों द्वारा चयनित बधाों को बाल रिपोर्टर भी बनाया जाएगा। वे स्कूल में होने वाली गतिविधियों की जानकारी शिक्षकों को देंगे। बाद में शिक्षक इसकी रिपोर्ट तैयार करेंगे। स्कूल शिक्षा विभाग के मुताबिक इसमें ऐसे छात्रों को शामिल किया जाएगा जिन्हें लिखना-पढ़ना आता है। 15 दिनों में विभिन्ना खेलकूद के आयोजन भी होंगे। इनमें पहली से पांचवीं तक के छात्रों के लिए अलग-अलग खेलकूद गतिविधियां होंगी।

    प्रश्नमंच का होगा आयोजन

    पहले पखवाड़े में छात्रों के लिए बूझो तो जानें का आयोजन होगा। इसमें माध्यमिक स्तर के छात्रों को शामिल किया जाएगा। इसके तहत प्रदेश और देश के प्रमुख व्यक्तियों के नामों से संबंधित प्रश्नमंच का आयोजन होगा। इसी के साथ महापुरुषों के बारे में भी उनसे पूछा जाएगा। राज्य शिक्षा केंद्र के संचालक ने सभी जिला परियोजना समन्वयकों को स्कूल रेडीनेस के तहत आयोजन करवाने के निर्देश दिए हैं। इसमें आनंदमयी वातावरण बनाने के लिए शुरू के 15 दिन प्राथमिक और माध्यमिक शालाओं में समान रूप से कार्यक्रम किए जाएंगे। इस दौरान पिछले शिक्षा सत्र में सर्वाधिक उपस्थिति वाले छात्र-छात्राओं को सम्मानित भी किया जाएगा। इस दौरान उन्हें नदी और जंगल का महत्व भी बताया जाएगा।

    30 जून तक चलेगा

    जिला परियोजना समन्यवक डॉ. अनिल कुशवाह ने स्कूल रेडीनेस 30 जून तक चलेगा। इसमें डे बाय डे अलग-अलग कार्यक्रम होंगे। राज्य शिक्षा शिक्षा केंद्र के निर्देशों के पालन में कार्यक्रम आयोजित करवा रहे हैं। इससे स्कूलों में आनंदमयी वातारवण बनाएंगे ताकि बच्चों को मजा आए औऱ स्कूल में उनकी उपस्थित बढ़े। छोटे बच्चों के स्वागत के लिए यह एक अच्छी पहल है।

    और जानें :  # dewas. school
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी