Naidunia
    Tuesday, October 17, 2017
    PreviousNext

    बिना एसएमएस आने वाले किसानों का गेहूं नहीं तुलेगा

    Published: Tue, 21 Mar 2017 03:57 AM (IST) | Updated: Tue, 21 Mar 2017 02:49 PM (IST)
    By: Editorial Team
    wheat rate 2017321 144920 21 03 2017

    उज्जैन। समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी के लिए प्रशासन ने सख्त रवैया अपनाया है। कलेक्टर संकेत भोंडवे ने आदेश जारी किया है कि बिना एसएमएस के आने वाले किसानों का गेहूं नहीं खरीदा जाए। खरीदी केंद्रों पर गेहूं लाने के पहले उसे सुखाया जाए और साफ करके ही लाएं, नहीं तो गेहूं का रिजेक्शन हो सकता है।

    हर सोमवार को कलेक्टर द्वारा ली जाने वाली अंतरविभागीय समन्वय समिति की बैठक में इस बार समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीदी का मुद्दा ही छाया रहा। बैठक में अधिकारियों ने बताया किसान बिना एसएमएस के ही अपनी फसल बेचने के लिए समर्थन मूल्य खरीदी केंद्रों पर पहुंच रहे हैं। इस पर कलेक्टर ने कहा, ऐसे किसानों का गेहूं खरीदा ही न जाए।

    जिले में समर्थन मूल्य पर अब तक 13 हजार 412 मीट्रिक टन गेहूं खरीदा जा चुका है। 12 केंद्र ऐसे हैं, जहां गोदाम हैं। इन केंद्रों से गेहूं का परिवहन नहीं करना पड़ रहा है। कलेक्टर ने नागरिक आपूर्ति निगम के अफसरों को निर्देश दिया कि परिवहनकर्ता से परिवहन का एग्रीमेंट अवश्य कर लें। सभी एसडीएम से कहा वे चेकलिस्ट के अनुसार केंद्रों का सत्यापन कर लें।

    तो, समितियों को करेंगे पुरस्कृत

    कलेक्टर ने साफ किया कि जो समितियां गेहूं खरीदी में सभी मापदंडों पर खरी उतरेंगी और सबसे कम नुकसान में रहेंगी, उनको खरीदी समाप्त होने के बाद पुरस्कृत किया जाएगा।

    फैसले और निर्देश

    - 26 मार्च को होमगार्ड लाइन पर जिला स्तरीय अंत्योदय मेला आयोजित होगा। इसमें राष्ट्रीय वयोश्री योजना के तहत व्हीलचेयर, वॉकिंग स्टीक, ट्रायपॉट्स, क्वाड्रीपॉट्स व वाकर्स आदि उपलब्ध कराएंगे।

    - पंचकोशी यात्रा की तैयारियों को लेकर 27 मार्च को बैठक आयोजित की जाएगी।

    - मुख्यमंत्री की लंबित घोषणाओं पर सभी विभाग 31 मार्च तक कार्रवाई करें।

    - मुख्यमंत्री हेल्पलाइन के लेवल-4 पर लंबित शिकायतों का निराकरण किया जाए।

    - जनसुनवाई में एसडीएम स्तर पर लंबित शिकायतों का निराकरण किया जाए।

    आज से वापस बृहस्पति भवन में जनसुनवाई

    उज्जैन। हर मंगलवार को होने वाली जनसुनवाई वापस कोठी पैलेस स्थित बृहस्पति भवन में ही होगी। पिछले कुछ समय से जनसुनवाई जिला पंचायत के सभाकक्ष में हो रही थी। बृहस्पति भवन के हॉल की मरम्मत कराई गई है। इस कारण जनसुनवाई का स्थान बदला गया था। मंगलवार से पुनः जनसुनवाई बृहस्पति भवन में होने से लोगों को राहत मिलेगी। कोठी पैलेस जाने में लोगों को सुविधा अधिक होती है।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें