Naidunia
    Thursday, April 27, 2017
    PreviousNext

    पार्किंग के 20 रुपए बचाने के चक्कर में गवां दिए 3 लाख

    Published: Tue, 21 Mar 2017 01:56 AM (IST) | Updated: Tue, 21 Mar 2017 03:28 PM (IST)
    By: Editorial Team
    money in car jabalpur 2017321 152829 21 03 2017

    जबलपुर। कोतवाली थाना क्षेत्र के तिलक भूमि तलैया बाजार में तेंदूखेड़ा के एक अनाज व्यापारी की टवेरा कार से चोरों ने 3 लाख रुपए से भरा बैग पार कर दिया। सोमवार शाम तकरीबन 5 बजे हुई इस वारदात की जानकारी मिलते ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। पीड़ित से पूछताछ के बाद अफसरों ने आसपास की दुकानों में लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज खंगाली, तो उसमें वारदात कैद मिली। पुलिस ने फुटेज के आधार पर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

    इस घटना में कार मालिक की हद दर्जे की लापरवाही सामने आई है। कार में सेंट्रल लॉकिंग नहीं थी। एक दरवाजे का लॉक खुला था। कार मालिक ने पार्किंग के 20 रुपए बचने के लिए कार सकरी गली में खड़ी की थी। जिसका फायदा चोरों ने उठाया। फिलहाल पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर एक दर्जन से अधिक संदिग्धों से पूछताछ कर रही है।

    कोतवाली थाना प्रभारी प्रफुल्ल श्रीवास्तव ने बताया कि दमोह के तेंदूखेड़ा निवासी स्वप्निल जैन अनाज का व्यापार करते हैं। सोमवार को स्वप्निल अपने पिता सुरेशचंद्र जैन, चाचा पदम जैन के साथ खरीदारी के लिए अपनी टवेरा कार (एमपी 20 बीए- 4232) से जबलपुर आए थे। दिनभर बाजार में घूमने के बाद शाम 4 बजे स्वप्निल ने गोपालबाग दमोहनाका स्थित यूनियन बैंक से 3 लाख रुपए निकाले और कार लेकर तिलक भूमि तलैया पहुंचे। कार को गली में खड़ी कर सभी खरीदारी करने चले गए। वे करीब 10 मिनट बाद जब कार के पास पहुंचे तो ड्राइविंग साइड का दरवाजा खुला मिला। अंदर चेक किया तो पीछे की सीट पर रखा नोटों से भरा बैग गायब था।

    युवक समझा कार मालिक हैं

    टीआई श्रीवास्तव के अनुसार घटना के बाद आसपास के लोगों से पूछताछ की गई, जिसमें एक युवक ने बताया कि अपाचे बाइक में दो युवक टवेरा के पास खड़े थे। एक युवक बाइक स्टार्ट करके खड़ा था, जबकि दूसरे ने कार का दरवाजा खोला और बैग निकाल लिया। इसके बाद दोनों भाग निकले। युवक ने बताया कि वह समझा बैग ले जाने वाले कार मालिक होंगे, लिहाजा उसे किसी तरह की शंका नहीं हुई। टीआई के अनुसार फिलहाल धारा 379 का अपराध दर्ज कर आरोपियों की तलाश की जा रही है।

    बैंक से ही रेकी का अनुमान

    जिस अंदाज में चोरी की वारदात को अंजाम दिया गया उससे पुलिस यह आशंका जाहिर कर रही है कि चोर व्यापारी का बैंक से ही पीछा कर रहे थे। व्यापारी की लापरवाही के कारण चोरों को वारदात को अंजाम देने में कोई परेशानी नहीं हुई और वे बड़े आराम से रुपयों से भरा बैग लेकर फरार हो गए।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी