Naidunia
    Thursday, December 14, 2017
    PreviousNext

    पुलिस वाला बनकर 1 घंटे में 2 लोगों की चेन व अंगूठी उतरवा ले गए ठग

    Published: Thu, 08 Jun 2017 08:43 PM (IST) | Updated: Fri, 09 Jun 2017 12:05 AM (IST)
    By: Editorial Team
    police fake 201769 0533 08 06 2017

    ग्वालियर। पुलिस वाला बनकर दो ठग एक घंटे में हार्ट पेसेंट सहित 2 लोगों से दो सोने की चेन व दो अंगूठी उतरवाकर ले गए। ठगों ने पहली वारदात खेड़ापति रोड स्थित जीडीए ऑफिस के पास गुरुवार दोपहर करीब 12 बजे और दूसरी एक घंटे बाद हरिनिर्मल टॉकीज के पास कैथ वाली गली में हुई।

    पिछले 11 दिनों में ठगी की 7 वारदातें हो चुकी हैं और पुलिस अब तक ठगों का कोई सुराग नहीं लगा पाई है। अब तक यह गैंग सिर्फ महिलाओं को टारगेट कर रही थी, लेकिन अब पुरुष भी शहर की सड़कों पर सुरक्षित नहीं है।

    हार्ट पेशेंट से कहा- पुलिस वाले हैं, चेन व अंगूठी उतारकर बैग में रख लें

    अजीतमल, औरेया निवासी विकास (35) पुत्र रामकिशन यादव हार्ट पेसेंट हैं। वे एक रिश्तेदार के साथ जीडीए दफ्तर के पास स्थित एक निजी हॉस्पिटल में इलाज कराने आए थे। दोपहर करीब 12 बजे घर लौटते समय मरी माता महलगांव रेलवे क्रॉसिंग के पीछे एक युवक ने आवाज लगाई कि ये आप किस तरफ जा रहे हो। पहली बार में इन लोगों ने अनसुना कर दिया।

    जब दूसरी बार आवाज लगाने पर विकास ने मुड़कर देखा और युवक से पूछा क्या बात है? युवक ने इशारा कर उनको बुलाया। दोनों युवकों ने पुलिसिया अंदाज में विकास को डांटते हुए कहा कि यहां लूट हो रही है और तुम सोने की चेन व अंगूठी पहनकर घूम रहे हो, चलो उतारो। धमका कर विकास को चेन व अंगूठी उतारने के लिए मजबूर कर दिया।

    विकास ने पुलिस वाला समझकर चेन व अंगूठी उतारकर अपने हाथ में ले ली। तभी युवक ने बैग में रखने के बहाने दोनों आभूषण अपने हाथ में ले लिए और बैग में रखने का नाटक कर बाइक से भाग गए। इन दोनों युवकों के भागते ही विकास ने बैग देखा तो उसमें सोने की चेन व अंगूठी नहीं थी। ठगी की वारदात के बाद विकास अपने रिश्तेदार को लेकर पड़ाव थाने पहुंचा। पुलिस ने अज्ञात युवकों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है।

    दामाद के घर जा रहे थे, ठगों ने रास्ते में सामान चेक किया, चेन व अंगूठी उतरवा ले गए

    एक घंटे बाद ही दूसरी वारदात हरिनिर्मल टॉकीज के पास कैथ वाली गली में हुई। गुरसराय जिला झांसी निवासी प्रेमनारायण अग्रवाल ने बताया कि उनका दामाद शैलेंद्र अग्रवाल कैथ वाली गली में रहता है। छुट्टियों में उसकी नातिन यहां आई थी। उसे ही लेने वह जा दामाद के घर जा रहे थे।

    टेंपो से उतरकर वे बैग लेकर गली में घुसे ही थे तभी 2 युवकों ने आवाज लगाकर उन्हें रोका। एक युवक बोला, हम पुलिस वाले हैं और यहां चेकिंग चल रही है। बैग में क्या है, चलो दिखाओ और बैग खोलकर देखने लगे। इसके बाद वे बोले, जेब में क्या है। रुपए व कागज देखे।

    उसके बाद चलो चेन व अंगूठी उतारकर बैग में रख लो। यहां लूट की वारदातें हो रही हैं इसलिए चेकिंग चल रही है। प्रेमनारायण ने सोने की चेन व अंगूठी उतार लीं। ठगों ने चेन व अंगूठी बैग में रख दी, लेकिन उन्होंने दामाद के घर जाकर बैग खोला तो सोने की चेन व अंगूठी गायब थीं। ठगों ने दोनों चीजें बैग में रखने की बजाए, अपनी जेब में कब रख लीं, उन्हें पता ही नहीं चला। प्रेमनारायण की शिकायत पर जनकगंज थाना पुलिस ने धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है।

    11 दिन अब तक हुईं ये वारदातें

    - ग्वालियर थानाक्षेत्र में एक महिला से ठगों ने कहा था कि तुम बहुत परेशान हो। अभी घर में कोई बड़ी घटना हुई है और अनहोनी का भय दिखाकर मंगलसूत्र उतरवा ले गए।

    - अचलेश्वर के पास आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को एक लाख रुपए का लालच देकर गहने उतरवा ले गए।

    -इंदरगंज थानाक्षेत्र में एक महिला को ठग कर ले गए थे।

    - जेल में पति से मुलाकात कर लौट रही महिला से 2 बदमाश गहने उतरवा ले गए।

    - हजीरा में श्रीमद्भागवत कथा सुनने जा रही वृद्धा से गहने उतरवा ले गए ठग।

    ठगी की वारदातें रोकने हरकत में नहीं आई पुलिस

    ठगी की वारदातों को रोकने के लिए पुलिस अब तक हरकत में नहीं आई है। ठग बेखौफ होकर शहर में किसी को भी निशाना बनाकर निकल जाते हैं।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें