Naidunia
    Wednesday, April 26, 2017
    PreviousNext

    बहू ने प्रेमी के साथ मिलकर की पति की हत्या, देखती रही सहमी सास

    Published: Wed, 19 Apr 2017 08:54 PM (IST) | Updated: Thu, 20 Apr 2017 09:05 AM (IST)
    By: Editorial Team
    murder 19 04 2017

    ग्वालियर। एक मां के सामने उसके बेटे की बहू और उसके प्रेमी ने गला घोंटकर बेरहमी से हत्या कर दी। बेटे की हत्या होते देख मां का कलेजा अंदर से फटा जा रहा था, लेकिन 12 वर्षीय नातिन की जान बचाने वह चुप रही और सोते रहने का नाटक किया।। घटना मंगलवार-बुधवार की दरमियानी रात राजा गैस गोदाम के पास की है।

    पति की हत्या करने के बाद महिला ने डायल 100 पर कॉल किया। पुलिस मौके पर पहुंची तो अज्ञात युवकों द्वारा हत्या करने की कहानी सुनाकर पुलिस को गुमराह करने लगी। पुलिस को देखकर मृतक की मां में हिम्मत आई। उन्होंने पुलिस को पूरी बात बताई। जिसके बाद पुलिस ने कुछ ही देर में महिला सहित तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर हत्या का खुलासा कर दिया।

    जनकगंज थानाक्षेत्र स्थित राजा गैस गोदाम गोल पहाड़िया के पास राजू उर्फ राजकुमार कुशवाह अपनी बहन के मकान में किराए पर रहता था। वह टाइल्स व मार्बल की सेटिंग का काम करता था। साथ में उसकी मां निर्मला कुशवाह, पत्नी शीला व बेटी अंजलि (12 साल) भी रहते थे।

    पत्नी के मोहल्ले में ही एक युवक से प्रेम संबंध होने पर दोनों के बीच कई बार झगड़े हो चुके थे। मंगलवार रात जब राजू घर लौटा तो पत्नी मोबाइल पर अपने प्रेमी से बात कर रही थी। इसी बात पर राजू का उससे झगड़ा हो गया। इसके बाद जब रात 2 बजे वह गहरी नींद में सो रहा था। तभी शीला ने अपने प्रेमी दिनेश कुशवाह निवासी वीरपुर बांध को बुलाया।

    दिनेश अपने एक साथी मनोज बाल्मीकि के साथ रात 2 बजे राजू के घर पहुंचा। यहां तीनों ने मिलकर राजू की गला घोंटकर हत्या कर दी। राजू ने बचने के लिए संघर्ष किया। जिस कारण उसके शरीर पर कई जगह नाखून के निशान थे। पास के ही कमरे में राजू की मां निर्मला नातिन अंजलि को लेकर सो रही थी।

    जब खटपट की आवाज आई तो उसने देखा कि उसके बेटे की हत्या कर दी थी। मां को दर्द तो बहुत हुआ पर निर्मला जानती थी कि अभी कहीं उसने शोर मचाया तो उसे और उसकी नातिन को भी ये लोग मार देंगे। इसलिए वह चुप रही।

    रात 3 बजे डायल 100 को कॉल किया

    प्रेमी और उसके साथी को भगाने के बाद शीला ने पति की हत्या की सूचना डायल 100 को कॉल कर दी। सूचना मिलते ही डायल 100 की टीम मौके पर पहुंची। महिला ने बताया कि वह सो रही थी तभी कोई अज्ञात युवक पति की हत्या कर गए हैं। सूचना मिलते ही जनकगंज पुलिस भी मौके पर पहुंची और जांच शुरू की।

    मां ने सुनाई कहानी, पुलिस ने किया खुलासा

    मृतक की पत्नी द्वारा सुनाई कहानी पुलिस के गले नहीं उतरी। इसके बाद पुलिस ने मृतक की मां से पूछताछ की तो उन्होंने बहू और उसके प्रेमी की पूरी रात भर की दास्तान पुलिस के सामने कह दी। पुलिस ने मृतक की मां को थाने बुलाकर भी पूछताछ की थी।

    इसके बाद पुलिस ने पहले शव को निगरानी में लेकर पोस्टमार्टम के लिए पहुंचाया। उसके बाद मृतक की पत्नी शीला, उसके प्रेमी दिनेश कुशवाह व प्रेमी के दोस्त मनोज बाल्मीकि को पुलिस ने गिरफ्तार कर पूछताछ की और पूरे मामले का खुलासा कर दिया।

    मामले के खुलासे में एएसपी दिनेश कौशल, सीएसपी दीपक भार्गव, टीआई जनकगंज संजीव नयन शर्मा एसआई टीआर भगत, एसआई सुदीप सिंह की विशेष भूमिका रही। एसपी ने तत्काल खुलासे पर जनकगंज थाने की पूरी टीम को 5 हजार रुपए का इनाम दिया है।

    पत्नी ने पकड़े पैर, प्रेमी ने घोंटा गला

    शीला और उसके पति की उम्र में 15 साल का अंतर था। 14 साल पहले वीरपुर निवासी शीला की शादी राजू से हुई थी। दोनों को एक 12 साल की बेटी भी है। पर उसके अपने ही मायके में हम उम्र पड़ोसी दिनेश कुशवाह से संबंध थे। राजू को 4 से 5 महीने पहले पत्नी के अवैध संबंध का पता लगा।

    उसने पत्नी की जासूसी शुरू कर दी। हत्या वाली रात भी राजू ने उससे मारपीट की। जिस पर उसने प्रेमी को बुलाकर हत्या करा दी। हत्या के समय राजू के पैर शीला ने पकड़े, मनोज ने हाथ और दिनेश ने उसका गला दबाया। आरोपियों ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि हत्या की प्लानिंग दो महीने पहले ही कर ली थी, लेकिन सही समय का इंतजार था।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी