Naidunia
    Friday, July 21, 2017
    PreviousNext

    जानिए क्यों जवानों को तबादले से पहले 3 थानों की दी जा रही च्वॉइस

    Published: Sun, 16 Jul 2017 10:12 PM (IST) | Updated: Mon, 17 Jul 2017 08:41 PM (IST)
    By: Editorial Team
    gwalior police 2017717 204140 16 07 2017

    ग्वालियर। शहर व देहात थानों में बड़ी सर्जरी के लिए होमवर्क किया जा रहा है। ट्रांसफर का आधार एक ही थाने में 4 साल का कार्यकाल रखा गया है। जिन जवानों को एक ही थाने में 4 साल या उससे अधिक समय हो गया है, उन जवानों से 3 थानों की च्वॉइस मांगी गई है। ताकि उनकी सहूलियत को भी ध्यान में रखकर स्थानांतरण किया सके।

    जिले में तमाम कोशिशों के बाद भी चोरी व लूट की घटनाओं पर अंकुश नहीं लग पा रहा है। जगह-जगह चेकिंग प्वॉइंट लगे होने के बाद भी चोर आसानी से दो पहिया वाहन चोरी कर ले जाते हैं। शहर की सड़कों पर झपट्टामार गैंग भी सक्रिय हैं। जो कि मौका मिलते ही मोबाइल व सोने की चेन झपट्टा मारकर लूटकर ले जाते हैं।

    काम में कसावट लाने के लिए सर्जरी की तैयारी

    पुलिस के दैनिक कामों में कसावट लाने व पुलिस और बदमाशों के बीच प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से बन गए गठजोड़ को तोड़ने के लिए जिला पुलिस में बड़ी सर्जरी के लिए होमवर्क किया जा रहा है। जिला पुलिस कार्यालय के स्थापना शाखा ने सिपाही से लेकर एएसआई रैंक तक के अधिकारियों को एक ही थाने व एक ही पदस्थापना पर 4 साल हो चुके हैं उनकी सूची बनाना शुरू कर दिया है। फिलहाल यह तय नहीं है कि यह सर्जरी कब तक होगी। सू्‌त्रों का कहना है कि जिले में बड़े स्तर पर स्थानांतरण करने के लिए आईजी व डीआईजी से भी सहमति ले ली गई है। इस संबंध में प्रभारी मंत्री से भी औपचारिक रूप से अधिकारियों की चर्चा हो चुकी है।

    3 थानों की मांगी च्वॉइस

    4 साल के दायरे में आने वाले जवानों से जिला पुलिस अधीक्षक कार्यालय ने 3 थानों की च्वॉइस मांगी है। उनका पहला पसंदीदा थाना कौन सा है, दूसरा व तीसरा कौन सा है। यह कवायद इसलिए की जा रही है ताकि स्थानांतरण के बाद जवान संशोधन करने के लिए सिफारिशों का सहारा न ले।

    जनकगंज, बहोड़ापुर व पुरानी छावनी पहली पसंद

    जवानों से च्वॉइस इसलिए मांगी है कि ताकि वह अपने परिवार के साथ तालमेल बैठाकर सहजता के साथ नौकरी कर सकें, लेकिन जवानों की पहली पसंद जनकगंज, बहोड़ापुर व पुरानी छावनी थाना हैं। च्वॉइस मांगे जाने से जवानों को एक लाभ यह भी है कि वह उसी सर्किल में रह सकते हैं।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी