Naidunia
    Saturday, November 18, 2017
    PreviousNext

    'आपकी बेटी पर मौत का साया है, मेरी बात मान लो तो बच जाएगी'

    Published: Wed, 13 Sep 2017 03:49 AM (IST) | Updated: Thu, 14 Sep 2017 11:43 AM (IST)
    By: Editorial Team
    woman hand 2017913 115326 13 09 2017

    ग्वालियर। आपकी बेटी की तबीयत बहुत खराब है और कोई साया मंडरा रहा है। जल्द ही उसकी मौत हो जाएगी। मंदिर से दर्शन कर लौट रही 55 वर्षीय महिला को रास्ते में मिले तीन युवकों ने यह बात कहते हुए डरा दिया। युवकों ने बताया कि वह हरिद्वार के जगन्नाथ मंदिर से आए हैं और पहले घर पर गए थे। पता लगा कि आप मंदिर गए हो तो आपको ही तलाश रहे थे। युवकों ने बेटी के ठीक होने के लिए अनुष्ठान का रास्ता बताया। पर उसके लिए सारे जेवर अभी से उतारने के लिए कहा। महिला उनकी बातों में आ गई। पूजा की डलिया में टॉप्स, मंगलसूत्र, चूडियां व अंगूठी उतारकर रख दी। जिसके बाद डलिया लेकर ठग बाइक से फरार हो गए।

    इंदरगंज थानाक्षेत्र के लोहिया बाजार मैना वाली गली स्थित छुटमल की बगिया निवासी रामअसर शिवहरे व्यवसायी हैं। मंगलवार सुबह उनकी पत्नी स्नेहलता (55) रोज की तरह अचलेश्वर मंदिर के लिए निकली थीं। जब पूजा कर वह लौट रही थीं तभी सुबह करीब 9.30 बजे इंदरगंज थाने के कॉर्नर पर एक्सिस बैंक के एटीएम के सामने 3 युवकों ने उन्हें रोका।

    युवकों ने बताया कि माताजी हम हरिद्वार के जगन्नाथ मंदिर से आए हैं। आपकी बेटी की तबीयत बहुत खराब है। काला साया है और कभी भी मौत हो सकती है। यदि उसको बचाना है तो बड़ा अनुष्ठान हरिद्वार में गंगा के तट पर करना पड़ेगा। तभी उसकी जान बचेगी। इस पर स्नेहलता ने कहा तो क्या करना होगा। एक युवक ने बताया कि अनुष्ठान के लिए अभी से आपको जेवरात त्यागने पड़ेंगे।

    युवकों के कहने पर स्नेहलता ने कान के टॉप्स, मंगलसूत्र, दो चूड़ियां व अंगूठी करीब डेढ़ लाख के जेवर पूजा की डलिया में रखकर दे दिए। युवक डलिया लेकर अपनी बाइक पर सवार हुए और निकल गए। जब महिला घर पहुंची तो पूरी बात बताई। इसके बाद ठगी का अहसास हुआ। महिला परिजन के साथ तत्काल इंदरगंज थाने पहुंची और शिकायत की। पुलिस ने ठगी का मामला दर्ज कर लिया है।

    कैसे पता था बेटी बीमार है

    स्नेहलता की बेटी हकीकत में काफी बीमार है। जब ठगों ने बेटी के मरने की बात कही तो वह डर गईं। ठगों ने उनसे घर पर होकर आने की बात भी कही। पर पुलिस और परिजन यह नहीं समझ पा रहे हैं कि ठगों को कैसे पता था कि उनकी बेटी बीमार है। पुलिस इसका पता लगा रही है।

    10 मिनट में हुई वारदात, सीसीटीवी में हुई कैद

    घटना मंगलवार सुबह 9.30 से 9.40 बजे के बीच हुई। सूचना मिलने के बाद पुलिस ने इंदरगंज थाने के सामने लगे पुलिस के कैमरों में छानबीन की तो ठग कैमरे में कैद हो गए हैं। ठगों ने पहले सड़क पर महिला को रोका। फिर सड़क किनारे लेकर आए और बातें करते रहे। जेवर लेकर बाइक पर फरार हो गए। पूरी वारदात सिर्फ 10 मिनट में हुई। ठगों की उम्र 25 से 35 वर्ष थी। एक मोटा सा युवक व दो पतले शरीर के थे। पुलिस फुटेज लेकर आरोपियों की तलाश कर रही है।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें