Naidunia
    Tuesday, October 17, 2017
    PreviousNext

    हरदा से 12 फाईल दि

    Published: Fri, 17 Feb 2017 07:56 AM (IST) | Updated: Fri, 17 Feb 2017 07:56 AM (IST)
    By: Editorial Team

    खबर में मिल बांचे का मोनो लगाना है

    दूरस्थअंचलों से बनाई अधिकारी और जनप्रतिनिधियों ने दूरी

    - मिल बांचे कार्यक्रम के तहत कल एक-एक स्कूल में पहुंचकर पढ़ाएंगे बच्चों को

    लोमेश कुमार गौर हरदा

    जिले में कल 18 फरवरी को मिल बांचें मध्यप्रदेश कार्यक्रम का आयोजन होना है। कार्यक्रम के जिले की प्रत्येक प्राथमिक व माध्यमिक शाला में जनप्रतिनिधि, अखिल भारतीय सेवाओं के वरिष्ठ अधिकारी, जिलों में पदस्थ प्रशासनिक और जिलाधिकारी-कर्मचारी अपनी ओर से विद्यार्थियों को पढ़ाई के महत्व के संबंध में समझाइश देंगे। इसमें खास बात यह है कि जिले के जिन अधिकारियों, जनप्रतिनिधियों द्वारा स्कूलों में जाकर समझाईश दी जाएगी उन्होंने शहर की शालाओं या शहर के आसपास की शालाओं की च्वाईस की हैं। दूरस्थअंचल में जाने से जहां एक ओर अधिकारियों ने परहेज किया है, वहीं जनप्रतिनिधियों की पसंद भी शहर और शहर के आसपास के स्कूल रहे हैं। जानकारी के अनुसार कार्यक्रम में जनप्रतिनिधि या इच्छुक व्यक्ति अपनी इच्छा के स्कूल में पहुँचकर हिन्दी पाठ्य-पुस्तक अथवा शाला पुस्तकालय में उपलब्ध रुचिकर पुस्तकों में से किसी एक पुस्तक के एक पाठ को बधाों को पढ़कर सुनाएंगे।

    टिमरनी विधायक अपवाद हैं

    अधिकारी और जनप्रतिनिधियों द्वारा दूरस्थ अंचल से दूरी बनाई है, लेकिन टिमरनी विधायक संजय शाह इसमें अपवाद हैं। उन्होंने खिरकिया विकासखंड के वनांचल ग्राम उमरी को पसंद किया है। वह सुबह 11 बजे शासकीय प्राथमिक शाला उमरी पहुंचेंगे।

    कौन कहां जाएगा?

    हरदा विधायक हरदा की लाल स्कूल, नपाध्यक्ष सुरेन्द्रजैन कुल हरदा स्कूल, जिला पंचायत अध्यक्ष कोमल पटेल मसनगांव, कलेक्टर श्रीकांत बनोठ कन्या शाला हरदा, एसपी आदित्यप्रताप सिंह माशा कुलहरदा, डीएफओ अनिल के सिंह हंडिया, डीएफओ एके पांडेय चारखेड़ा, जिपं उपाध्यक्ष मनीष निशोद माशा चारखेड़ा, एएसपी किरणलता केरकेट्टा कन्या माशा हरदा, एसडीएम हरदा साहबलाल सोलंकी हरदा नपा स्कूल, टिमरनी एसडीएम जेपी सचान टिमरनी की माशा, पीके पांडेय खिरकिया एसडीएम माशा मांदला जाएंगे।

    यह हो रहे शामिल

    कार्यक्रम के तहत विधायकद्वय, जिला पंचायत अध्यक्ष, उपाध्यक्ष , जनपद पंचायतों के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, नगरीय निकायों के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष एवं अन्य जनप्रतिनिधियों सहित समाजसेवी, डॉक्टर्स, इंजीनियर्स, वकील, सेवानिवृत अधिकारी, पत्रकारगण कल 18 फरवरी को सभी प्राथमिक एवं माध्यमिक विद्यालयों में जाकर बधाों के भाषाज्ञान संवर्धन के लिए हिन्दी पाठ्य-पुस्तक अथवा शाला पुस्तकालय में उपलब्ध रुचिकर पुस्तकों में से किसी एक पुस्तक के एक पाठ को बधाों को पढ़कर सुनाएंगे।

    स्वेच्छा से चयन

    इसमें स्वेच्छा से स्कूलों का चयन किया जाता है। अधिकांश लोगों ने जिन स्कूलों का नाम पसंद किया उन्हें संभवतः वही स्कूल आवंटित किया। कुछ स्कूलों का चयन डीपीसी ने किया है।

    - श्रीकांत बनोठ, कलेक्टर

    और जानें :  # harda news
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें