Naidunia
    Saturday, October 21, 2017
    PreviousNext

    विक्षिप्त मां को संभालना मेटरनिटी स्टाफ के लिए बना आफत

    Published: Sat, 14 Oct 2017 04:08 AM (IST) | Updated: Sat, 14 Oct 2017 04:08 AM (IST)
    By: Editorial Team

    होशंगाबाद। जिला अस्पताल प्रशासन पिछले एक हफ्ते से एक महिला मरीज को लेकर पसोपेश में है। वहीं इस महिला की हरकतों से वार्ड में भर्ती प्रसूताएं इस कदर खौंफ में हैं कि वे अपने नवजात शिशुओं को एक पल के लिये आंखों से ओझल नहीं होने दे रही हैं। यही वजह है कि एक महिला सुरक्षा गार्ड को इस महिला पर नजर रखने की ड्यूटी लगा रखी है। दरअसल ये महिला लावारिस और विक्षिप्त है। करीब हफ्ते भर पहले एसपी आफिस के पास एक बच्चे को जन्म देने के बाद इसे जिला अस्पताल लाकर भर्ती किया गया था । फिलहाल जच्चा-बच्चा ठीक हैं और नियमानुसार उनकी तीन दिन बाद ही छुट्टी हो जाना चाहिए थी, लेकिन महिला का कोई ठोर-ठिकाना नहीं होने के कारण अस्पताल प्रशासन को यही समझ में नहीं आ रहा है कि आखिर इस महिला और उसके नवजात शिशु को कहां रखा जाये।

    महिला को प्रसूति वार्ड में और उसके बच्चे को एसएनसीयू में रखा गया है। इंचार्ज नर्स ने बताया महिला न तो अपने बच्चे का न तो केयर करती है और न फीडिंग कराती है। ऐसे में बच्चे को एसएनसीयू में रखा गया है। उन्होंने बताया विक्षिप्त होने के कारण महिला की हरकत वार्ड में भर्ती अन्य प्रसूताओं को भी नागवार लगती है। वह बेड से कभी भी गायब हो जाती है। 5-6 घंटे सड़कों पर भटककर वापस आ जाती है। जब वह वार्ड में रहती है तो उसकी ऊल-जुलूल हरकतों से वहां भर्ती प्रसूताएं शिकायतें करती है। महिला सुरक्षा गार्ड ने बताया प्रसूताएं इस कदर भयभीत रहती हैं कि अपने बच्चों को एक मिनट के लिये अकेला नहीं छोड़ रही हैं। इसकी वजह यह है कि उन्हें यह लगता है कि विक्षिप्त महिला कहीं उनके बच्चे को चोरी न कर ले जाये या उसे कोई नुकसान न पहुंचा दे।

    इनका कहना है

    - उस महिला की हालत ऐसी नहीं है कि वो अपने बच्चे की देखरेख कर सके। उसे कोई लेने भी नहीं आ रहा है ऐसे में हमें भी समझ नहीं आ रहा है कि उसे कहां रखा जाये।

    डा. सुधीर डेहरिया, सीएस

    और जानें :  # hoshangabad news
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें