Naidunia
    Friday, June 23, 2017
    PreviousNext

    विदेश से कैसे लाएं वाग्देवी की प्रतिमा, विधानसभा में लंबित है आश्वासन

    Published: Thu, 16 Feb 2017 08:34 PM (IST) | Updated: Fri, 17 Feb 2017 07:58 AM (IST)
    By: Editorial Team
    vagdevi 16 02 2017

    भोपाल। ब्यूरो। विधानसभा के बजट सत्र को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार को मंत्रालय में अपर मुख्य सचिव और प्रमुख सचिवों के साथ बैठक की। इसमें मंत्रियों द्वारा सदन में दिए आश्वासन पूरे नहीं होने का मुद्दा उठा तो संस्कृति सचिव राजेश प्रसाद मिश्रा ने कहा कि धार से वाग्देवी की मूर्ति विदेश चली गई। इसको लेकर विधानसभा में विभागीय मंत्री ने उत्तर दिया तो वो आश्वासन बन गया, लेकिन हम मूर्ति वापस लाने के मामले में कुछ नहीं कर सकते हैं।

    इस पर मुख्य सचिव बसंत प्रताप सिंह ने अधिकारियों को हिदायत दी कि ऐसे उत्तर मत दो, जो आश्वासन बन जाएं। शब्दों का चयन ठीक से किया जाना चाहिए। वहीं, मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे पास बताने के लिए काफी कुछ है। प्रश्नों के सटीक उत्तर दें और विभाग की उपलब्धियां बताएं।

    बैठक में संसदीय कार्य विभाग के प्रमुख सचिव वीके बाथम ने बताया कि पिछले सालों की तुलना में विभागों का कामकाज सुधरा है। एक हजार से ज्यादा मामले दो माह में निपट गए हैं। 957 आश्वासन लंबित हैं तो 541 प्रश्नों के जवाब पूरे नहीं हुए हैं। लोक लेखा समिति ने 419 आपत्तियां उठाते हुए सिफारिशें की हैं, जिन पर कार्रवाई नहीं हुई है।

    मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से कहा कि विधानसभा से जुड़े कामों को प्राथमिकता दी जाए। हर सवाल का जवाब दिया जाए। इसके लिए विधायकों को सामग्री मुहैया कराई जाए। आश्वासनों को लेकर सतर्कता बरती जाए। खनिज खनन से जुड़े जितने भी निर्देश दिए गए हैं, उनका सख्ती के साथ पालन कराया जाए।

    आनंद से जुड़े सवालों का जवाब मैं दूंगा

    सूत्रों के मुताबिक बैठक में बजट सत्र के दौरान उठने वाले संभावित सवालों पर बात हुई तो अपर मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस ने बताया कि आनंद विभाग और उसकी कार्यवाहियों को लेकर पांच सवाल लगे हैं। इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इनका जवाब मैं दूंगा। संबंधित जो भी बातें सदन में आएंगी, उनके बारे में मैं बोलूंगा।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी