Naidunia
    Monday, August 21, 2017
    PreviousNext

    चालान हेराफेरी में केस दर्ज होते ही फरार हुए शराब ठेकेदार

    Published: Sun, 13 Aug 2017 03:59 AM (IST) | Updated: Sun, 13 Aug 2017 03:59 AM (IST)
    By: Editorial Team

    इंदौर। ट्रेजरी चालानों में हेराफेरी कर 40 करोड़ का राजस्व चुराने वाले शराब ठेकेदारों पर प्रकरण दर्ज होते ही वे फरार हो गए। कुछ तो रुपए जमा करने में जुट गए हैं। उधर, आबकारी विभाग के अफसर लीपापोती का प्रयास कर रहे हैं। पुलिस को अभी तक दस्तावेज तक नहीं सौंपे हैं।

    सीएसपी शशिकांत कनकने के मुताबिक सहायक जिला आबकारी अधिकारी राजीव द्विवेदी की रिपोर्ट पर आरोपी अविनाश सिंह, विजय श्रीवास्तव, राकेश जायसवाल, योगेंद्र जायसवाल, राहुल चौकसे, सूर्यप्रकाश अरोरा, गोपाल शिवहरे, लवकुश पांडे, प्रदीप जायसवाल, जितेंद्र शिवराम, अंशप्रीतसिंह लुबाना, दीपक जायसवाल, राजू दशवंत और अंश त्रिवेदी के खिलाफ केस दर्ज किया था। पुलिस ने जांच के लिए आबकारी अफसरों से असली चालान और बैंक रिकॉर्ड की मांग की है। उधर, आबकारी ने शनिवार तक करीब साढ़े चार करोड़ रुपए जमा करवा लिए।

    इन अफसरों की भूमिका की जांच

    -डीएस सिसौदिया (एडीओ खरगोन)

    -सुखानंद पाठक (महू)

    -आरती दुबे (एडीओ उज्जैन)

    -जीपीएस सिकरवार (ठेका प्रभारी)

    -धनराजसिंह परमार (ठेका शाखा लिपिक)

    -अनमोल गुप्ता (ठेका लिपिक)

    और जानें :  # city
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें