Naidunia
    Friday, October 20, 2017
    PreviousNext

    मध्‍यप्रदेश में मानसून के कारण पेयजल संकट के आसार

    Published: Sun, 13 Aug 2017 08:58 AM (IST) | Updated: Sun, 13 Aug 2017 03:01 PM (IST)
    By: Editorial Team
    drinking water 2017813 983 13 08 2017

    इंदौर। अगले 15 दिन में बारिश नहीं हुई तो प्रदेश में जलसंकट गहराने की आशंका है। खास तौर पर पीने के पानी को लेकर चिंता बढ़ गई है। प्रदेश के 20 जिले अभी से खतरे के दायरे में हैं, जहां एक जून से 12 अगस्त के बीच सामान्य से 20 फीसदी कम बारिश हुई है।

    मौसम विभाग का मानना है कि मानसून का अभी डेढ़ माह बाकी है। तेज बारिश के अभाव में जल स्रोत न भरने और भूजल स्तर में बढ़ोतरी न होने से स्थिति बिगड़ रही है। शाजापुर जिले को जल अभावग्रस्त घोषित कर दिया है। मानसून में संभवत: ऐसा पहली बार हुआ है। धार और देवास जिले में भी स्थिति गंभीर है। पीएचई विभाग के अनुसार उज्जैन में जलापूर्ति केंद्र गंभीर जलाशय में 30 दिन का पानी बचा है।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=
    • mahendra agrawal MAIHAR13 Aug 2017, 07:12:05 PM

      जब इन्सान शिव खुद ईश्वर बनने लगेगा तब आम आदमी पानी पानी को तरसेगा ही ?

    जरूर पढ़ें