Naidunia
    Monday, April 24, 2017
    PreviousNext

    विदाई के वक्त दूल्हा गायब, दुल्हन करती रह गई इंतजार

    Published: Fri, 09 May 2014 02:56 AM (IST) | Updated: Fri, 09 May 2014 10:39 AM (IST)
    By: Editorial Team
    groom-misssing-indore 201459 10392 09 05 2014

    परिजन ने दो दोस्तों पर अपहरण का शक जताया, पुलिस कर रही मामले की जांच

    इंदौर। शहनाई बजी, रस्में पूरी हुईं और सात फेरे भी हुए। वर और कन्या पक्ष के परिजन ने एक-दूसरे के साथ खुशियां भी बांटीं। जब विदाई का वक्त आया तो दूल्हा गायब हो गया। दुल्हन इंतजार करती रही। वाकया गुरुवार अलसुबह पवननगर में हुआ। दामोदरनगर के अशोक यादव ने दोनों बेटे अरविंद व राहुल का विवाह पवननगर के कमल यादव की बेटी कोमल व कांता से तय किया था।

    बुधवार शाम दोनों भाई बरात लेकर दुल्हन के घर पहुंचे। दोनों परिवार ने दोनों की धूमधाम से शादी की। शहनाइयों की गूंज के साथ स्टेज प्रोग्राम हुआ। दोनों भाइयों ने साथ सात फेरे भी लिए। जब सुबह 6 बजे विदाई का वक्त आया तो अफरा-तफरी मच गई। जिसका हाथ थामकर कोमल ससुराल जाने वाली थी वह दूल्हा (अरविंद) गायब हो चुका था। पूरा परिवार उसे तलाशने में लग गया।

    पहले तो परिवार ने सोचा कि वह बाथरूम गया होगा। देर तक नहीं आया तो उसके मोबाइल पर फोन किया। जबाव में अरविंद ने कहा कि मैं बॉम्बे अस्पताल के पास हूं। आ रहा हूं। कुछ देर तक वह नहीं लौटा तो फिर फोन किया। तब अरविंद ने कहा मैं बंगाली चौराहे पर हूं। आ रहा हूं। उसके बाद साढ़े 9 बजे फोन करने पर अरविंद ने कहा मैं मूसाखेड़ी चौराहे पर पहुंच गया हूं। फिर उसका मोबाइल बंद हो गया।

    मंडप से उठकर बरात थाने पहुंची, अपहरण का शक

    घटना के बाद अरविंद के माता-पिता, भाई सहित सभी बराती संयोगितागंज थाने पहुंचे। उनके साथ कोमल के परिवार वाले भी थे। उन्होंने शक जताया कि अरविंद के साथ दो दोस्त धर्मेंद्र व विक्की उर्फ चोटी भी गायब हैं। अरविंद की बाइक भी नहीं दिखाई दे रही है। दोनों उसे बहला-फुसलाकर कहीं ले गए हैं। टीआई डीएस येवले ने बताया कि अरविंद दोस्तों के साथ जान-बूझकर कहीं चला गया है। उसकी गुमशुदगी दर्ज कर हम मामले की जांच कर रहे हैं।

    दोनों बहनों की नहीं हुई विदाई

    अरविंद मकान बनाने का काम करता है, जबकि कोमल के पिता कमल का फर्नीचर का कामकाज है। कोमल व कांता के परिवार में माता-पिता एक भाई व एक छोटी बहन बरखा है। माता-पिता ने बताया कि दोनों बच्चों की मर्जी से विवाह हुआ। अब अरविंद के आने के बाद ही दोनों बेटियों की विदाई होगी। -नप्र

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी