Tuesday, September 27, 2016
    PreviousNext

    तुलसियाना रेसीडेंसी के बिल्डर ने आज एक करोड़ जमा नहीं किए तो होगी कार्रवाई

    Published: Thu, 06 Feb 2014 02:59 AM (IST) | Updated: Thu, 06 Feb 2014 02:59 AM (IST)
    By: Editorial Team

    -लोन के लिए गिरवी रखी बिल्डर की संपत्ति जब्त कर सकता है एमपीएफसी

    इंदौर। निपानिया स्थित तुलसियाना रेसीडेंसी के बिल्डर ने 6 फरवरी तक लोन की रकम में से एक करोड़ रुपए नहीं चुकाए तो एमपीएफसी उसकी गिरवी रखी संपत्ति जब्त कर सकता है। बताया जाता है कि बिल्डर लोन की एक किस्त ओवरड्यू हो चुकी है और उसे जमा करने की चेतावनी दी गई है। किस्त जमा करने के बाद ही उसे एमपीएफसी से टाउनशिप के लिए एनओसी मिल पाएगी।

    गौरतलब है कि तुलसियाना रेसीडेंसी में बिल्डर सुनील भाटिया ने लोगों को फ्लैट तो बेच दिए, लेकिन टाउनशिप पर लोन बकाया होने के कारण अब रहवासियों को दिक्कत आ रही है। बताया जाता है कि एमपीएफसी के अधिकारी वसूली के लिए टाउनशिप भी पहुंच रहे हैं। रहवासियों ने मामले की शिकायत जनसुनवाई में भी की थी।

    एक फ्लैट दो लोगों को!

    बुधवार को तुलसियाना रेसीडेंसी के रहवासी एमपीएफसी के दफ्तर पहुंचे। रहवासियों ने अधिकारियों को बताया कि कुछ लोगों को ऐसे भी धोखा दिया कि सौदा किसी और फ्लैट का किया, लेकिन बाद में रहने के लिए कोई और फ्लैट दे दिया। बताया जाता है कि कुछ फ्लैट रहवासियों को भी बेच दिए और वही फ्लैट इन्वेस्टर्स को भी बेच दिए। रहवासियों ने अधिकारियों से पूछा कि आप बिल्डर पर क्या कार्रवाई करेंगे? अधिकारियों ने कहा कि जैसे ही बिल्डर पैसा जमा करा देगा एनओसी जमा हो जाएगी। रहवासियों ने कहा कि बिल्िडग में खाली पड़े फ्लैट पर एमपीएफसी ताला लगाकर अपना पैसा वसूल सकता है।

    वर्शन

    बिल्डर को पैसा जमा करने के लिए बोला गया है। कल तक का टाइम दिया गया है। यदि स्टालमेंट जमा हो जाएगी तो उसे एनओसी जारी कर देंगे। यदि नहीं तो उसकी गिरवी प्रॉपर्टी को टेकओवर किया जा सकता है। मामले में यह ध्यान रखा जाएगा कि जनता का भी नुकसान न हो और एमपीएफसी का भी। - केसी गुप्ता, एमडी, एमपीएफसी

    और जानें :  # TULSIYANA RESIDENCY
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=
      अटपटी-चटपटी