Naidunia
    Tuesday, August 22, 2017
    PreviousNext

    यहां पार्किंग में अगर मशीन ने चेहरा पहचाना तो ही मिलेगी गाड़ी

    Published: Sat, 17 Jun 2017 03:50 AM (IST) | Updated: Sat, 17 Jun 2017 06:48 PM (IST)
    By: Editorial Team
    jabalpur isbt parking 2017617 18489 17 06 2017

    जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। आईएसबीटी की पार्किंग में अगले माह से जैसे ही आपकी गाड़ी पहुंचेगी फेस डिटेक्शन कैमरा आपकी फोटो खींचेगा और डिवाइस में लगा ऑटोमेटिक नंबर प्लेट रीडर गाड़ी का पूरा रिकार्ड निकाल लेगा। गाड़ी उठाने के दौरान जब डिवाइस चेहरा और गाड़ी की डिटेल का मिलान कर लेगा तभी आपको गाड़ी मिलेगी वर्ना जब्त कर ली जाएगी।

    आईएसबीटी का पार्किंग स्टैण्ड शहर का पहला पेपरलेस स्टैण्ड बन गया है। पार्किंग स्टैण्ड का काम करने वाली नीदरलैण्ड की डीकॉक कंपनी अगले माह से इसकी तकनीकि और अपडेट करने जा रही है, जिसमें चेहरा स्कैन करने के अलावा गाड़ी की पूरी डिटेल भी डिवाइस में आने लगेगी। इसके बाद लौटते समय यदि डिवाइस से आपके चेहरे का मिलान नहीं हुआ तो गाड़ी स्टैण्ड से बाहर नहीं निकलने दी जाएगी।

    यह प्रक्रिया सिर्फ एक बार की नहीं होगी भविष्य में जब कभी भी उस नंबर की गाड़ी स्टैण्ड में खड़ी होगी तो पहली बार जो चेहरा स्कैन हुआ था उससे मिलान न होने पर आपको गाड़ी के सभी दस्तावेज और अपना पहचान पत्र भी देना होगा। यही पूरी औपचारिकता कार्ड के गुमने पर भी करनी होगी लेकिन तब 100 रुपए जुर्माना भी लगेगा।

    अभी क्या हो रहा है

    पार्किंग गेट पर गाड़ी पहुंचते ही उसका नंबर डिवाइस में फीडकर कार्ड में स्कैन किया जाता है। गाड़ी रखकर लौटने पर स्टैण्ड वाला आपको वह कार्ड दे देगा। स्टैण्ड से गाड़ी उठाने के दौरान कार्ड को स्कैन करने पर डिवाइस में जो नंबर आता है यदि वही नंबर आपकी गाड़ी का है तो उसे बाहर निकलने दिया जाता है, नहीं तो जब्त कर ली जाती है। गाड़ी बाहर जाते ही कार्ड से गाड़ी का नंबर अपने आप मिट जाता है।

    आगे क्या होगा

    फेनको कंपनी की जो डिवाइस उपयोग की जा रही है उसमें कार्ड स्कैन होता है। इस कार्ड की मेमोरी 64 केबी की है। आगे इसी डिवाइस को और अपडेट किया जाएगा जिसमें फेस डिटेक्शन कैमरा और ऑटोमेटिक नंबर प्लेट रीडर भी लगा दिया जाएगा। जो आपके चेहरे को स्कैन करने के साथ ही गाड़ी की डिटेल भी नोट कर लेगा। इसके लिये आरटीओ से लायसेंस लेने आवेदन कर दिया गया है।

    आईएसबीटी के पार्किंग स्टैण्ड को अभी पेपरलेस किया गया है लेकिन अगले माह तक इसे ऐसा अपडेट कर दिया जाएगा कि गाड़ी रखने वाले के चेहरे के साथ गाड़ी की पूरी डिटेल भी डिवाइस में आ जाएगी। सचिन विश्वकर्मा, सीईओ जेसीटीएसएल

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें