Naidunia
    Wednesday, May 24, 2017
    PreviousNext

    मित्रता हो तो कृष्ण और सुदामा जैसी

    Published: Sat, 20 May 2017 12:24 AM (IST) | Updated: Sat, 20 May 2017 12:24 AM (IST)
    By: Editorial Team

    गोसलपुर। एनएच 7 मोहतरा ग्राम के पास स्थित गौरी सरोबर मंदिर परिसर में भागवत कथा के अंतिम दिन श्री कृष्ण और उनके मित्र सुदामा की मीमांस करते हुए इन्द्रारमण रामानुजदास महाराज ने कहा कि मित्रता हो तो श्री कृष्ण और सुदामा जैसी। सुदामा जी के पास धन नहीं था परंतु प्रभु के प्रति मन में अनन्य प्रेम था। वही प्रेम उन्हें भगवान का दर्शन करा पाया। भगवान कृष्ण ने भी अपने प्रति मित्र के प्रेम को देखकर उन्हें अखण्ड ऐश्वर्य प्रदान कर दिया। कथा के पूर्व आयोजक मण्डल की ओर से नन्ही बाई, रामसुजान, गौरीशंकर पाठक, सोमवती, गैंदाबाई आदि ने व्यासपीठ का पूजन किया। कथा समापन पर शनिवार को भंडारे का आयोजन किया गया है।

    और जानें :  # jabalpur news
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी