Naidunia
    Thursday, November 23, 2017
    PreviousNext

    निजी डेंटल कॉलेज ने दिए अवैध प्रवेश, एमडीएस के 83 छात्र नहीं दे पाएंगे परीक्षा

    Published: Wed, 15 Nov 2017 12:17 AM (IST) | Updated: Wed, 15 Nov 2017 07:42 AM (IST)
    By: Editorial Team
    dental student 15 11 2017

    जबलपुर। मैनेजमेंट कोटा खत्म हो चुका है, इसके बाद भी निजी डेंटल कॉलेजों ने मैनेजमेंट कोटा के नाम से मास्टर ऑफ डेंटल सर्जरी (एमडीएस) कोर्स में 83 छात्रों को प्रवेश दिया। इनका प्रवेश मेडिकल यूनिवर्सिटी ने अवैध माना और अब यूनिवर्सिटी इनका नामांकन जारी नहीं करेगी।

    इससे अब ये छात्र परीक्षा नहीं दे सकेंगे। इस तरह का नोटिस मेडिकल यूनिवर्सिटी ने प्रदेश के सभी निजी डेंटल कॉलेजों को जारी कर दिया है। नोटिस का जवाब नहीं देने पर संबद्धता समाप्त करने की भी चेतावनी है। इसके अलावा एमबीबीएस कोर्स में प्रवेश लिए एनआरआई छात्रों के नतीजे रोकने का भी मेडिकल यूनिवर्सिटी ने आदेश जारी किया है।

    ये है मामला

    एमडीएस में प्रवेश के लिए 2016-17 में हुई नीट की प्रवेश परीक्षा से प्रदेशभर के निजी डेंटल कॉलेजों ने डीएमई (डायरेक्टर ऑफ मेडिकल एजुकेशन) की जारी सूची से छात्रों को प्रवेश नहीं दिया, बल्कि उन छात्रों को प्रवेश दिया जिनके नाम डीएमई की सूची में नहीं थे। इस मामले को व्हिसल ब्लोअर ने उठाया।

    इसकी जांच मेडिकल यूनिवर्सिटी ने करने के लिए उच्चस्तरीय समिति गठित की। समिति ने जांच में पाया कि निजी डेंटल कॉलेजों ने अवैध तरीके से मैनेजमेंट कोटा के नाम पर ये प्रवेश किए हैं। इसमें डीएमई से जारी सूची के छात्रों को शामिल नहीं किया था।

    कार्यपरिषद ने दी अनुमति

    जांच अधिकारी तृप्ति गुप्ता का कहना है कि कार्यपरिषद की बैठक मेडिकल यूनिवर्सिटी में 8 नवंबर को हुई। इस बैठक में यह निर्णय लिया गया कि छात्रों के नामांकन जारी न किए जाएं। इसके अलावा जिन कॉलेजों ने प्रवेश दिए हैं, उन्हें भी सजा दी जाए। इसके लिए उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी किया जाए जिसका जबाव नहीं आने पर उनकी संबद्धता रद्द की जाए।

    एनआरआई छात्रों के रिजल्ट पर रोक

    एनआरआई छात्रों के रिजल्ट पर रोक का भी नोटिस मेडिकल यूनिवर्सिटी ने जारी कर दिया है। निजी मेडिकल कॉलेजों ने उन एनआरआई छात्रों को प्रवेश दिया, जिनका प्रवेश एनआरआई की गाइड लाइन के तहत नहीं किया गया।

    इन कॉलेजों के छात्र नहीं दे पाएंगे परीक्षा

    कॉलेज - छात्र संख्या

    - कॉलेज ऑफ डेंटल साइंस राऊ, इंदौर - 09

    - हितकारिणी डेंटल कॉलेज, जबलपुर - 16

    - महाराणा प्रताप कॉलेज ऑफ डेनिस्ट्री ऑफ रिसर्च सेंटर, ग्वालियर - 12

    - मानसरोवर डेंटल कॉलेज, भोपाल - 11

    - मॉडर्न डेंटल कॉलेज, इंदौर - 13

    - रिशिराज कॉलेज ऑफ डेंटल साइंस, भोपाल - 09

    - श्री अरबिंदो डेंटल कॉलेज, इंदौर - 13

    इन कॉलेजों के छात्रों के रिजल्ट पर रोक

    - एडवांस इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस, भोपाल - 22

    - अमलतास मेडिकल कॉलेज, देवास - 21

    - चिरायू मेडिकल कॉलेज, भोपाल - 23

    - मॉडर्न इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस, -23

    - आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज, उज्जैन - 19

    - साक्षी मेडिकल कॉलेज गुना - 25 (इनको बाहर कर दिया)

    - अरबिंदो मेडिकल कॉलेज, इंदौर- 23

    - सुखसागर मेडिकल कॉलेज, जबलपुर - 23

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें