Naidunia
    Thursday, November 23, 2017
    PreviousNext

    स्वच्छता रखें, शौचालय का करें नियमित उपयोग-संजय पाठक

    Published: Mon, 18 Sep 2017 12:26 AM (IST) | Updated: Mon, 18 Sep 2017 12:26 AM (IST)
    By: Editorial Team

    कटनी। नईदुनिया प्रतिनिधि

    स्वच्छता ही सेवा अभियान के तहत रविवार को सेवा दिवस पर श्रमदान कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें ग्राम पंचायतों में निर्माण के लिए शेष रहे शौचालयों को श्रमदान से पूरा कराने के लिए अभियान की शुरुआत हुई। जिलास्तरीय कार्यक्रम मड़ई ग्राम पंचायत के ग्राम पोंड़ी में आयोजित किया गया। इसमें प्रदेश सूक्ष्म, लघु व मध्यम उद्यम राज्यमंत्री संजय सत्येंद्र पाठक ने ग्रामीण अंगद के घर पहुंचकर शौचालय निर्माण कार्य का भूमि पूजन किया। इस दौरान कलेक्टर विशेष गढ़पाले भी उपस्थित रहे। कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती व राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के चित्र पर पुष्प अर्पित कर हुआ। इस दौरान राज्यमंत्री श्री पाठक ने उपस्थित ग्रामीणों को स्वच्छता की सीख दी। उन्होंने कहा कि स्वच्छता रखें और शौचालय का उपयोग करें। शौचालय के उपयोग करने से गंदगी नहीं फैलती। इससे बीमारी पर भी अंकुश लगता है। शासन स्वच्छता और आपके स्वास्थ्य के मद्वेनजर ही आपको अपने घरों में शौचालय बनाने और उसका उपयोग करने के लिए प्रेरित कर रहा है। उन्होंने कलेक्टर श्री गढ़पाले को ऐसे नागरिक, जिनके घरों में शौचालय है, उसके बावजूद भी शौच के लिए बाहर जाते हैं, उन पर जुर्माना लगाने की बात कही।

    सेवा दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में जल संरक्षण के प्रति राज्यमंत्री श्री पाठक ने ग्रामीणों को जागरुक किया। उन्होंने कहा कि बारिश के पानी को सहेजकर ही हम भू-जल स्तर बढ़ा सकते हैं। इसके लिये बोरी बंधान व जल रुकाव की संरचनाओं का निर्माण करें। अपनी सहभागिता भी उसमें श्रमदान के रुप में दें। इतना ही नहीं सार्वजनिक स्थानों के साथ-साथ यदि आपके खेतों में भी नाले हों, तो वहां भी बोरी

    बंधान कर जल का रुकाव करें। प्रशासनिक अमले को भी महज खानापूर्ति के लिये जल संरक्षण की संरचनाओं का निर्माण ना करने को कहा। उन्होंने सरपंच को भी जल संरचनाओं के कार्य महज सरकारी काम समझकर इतिश्री ना कर लेने की बात कही। राज्यमंत्री ने कहा कि जल संरक्षण हमारे भविष्य के लिए नितांत आवश्यक है। अन्यथा इसके भविष्यगामी दुष्परिणाम हमें भोगने होंगे।

    सेवा दिवस कार्यक्रम में स्वच्छता जागरुकता रथ को भी हरी झंडी दिखाकर राज्यमंत्री संजय सत्येन्द्र पाठक ने रवाना किया। उन्होने कहा कि इस जागरुकता रथ की सार्थकता तभी है, जब ग्रामीणों को हम स्वच्छता और जल संरक्षण के प्रति जागरुक कर पायें। परियोजना अधिकारी द्वारा बताया गया कि जिले में 11 स्वच्छता रथों को आज रवाना किया गया है। प्रत्येक स्वच्छता रथ में प्रभारी अधिकारी नियुक्त किये गये हैं। जिसमें ग्रामीण विकास विभाग के अधिकारी सम्मिलित हैं। यह रथ प्रत्येक दिन 3 से 5 ग्रामों में पहुंचकर ग्रामीणों को जगरुक करेंगे। ग्राम पोंड़ी में आयोजित कार्यक्रम में स्थानीय महिलाओं ने लोकगीत के माध्यम से शौचालय के महत्व को सुनाया। उनके लोकगीत की सराहना कार्यक्रम में उपस्थित अतिथियों सहित ग्रामीणों ने की। गांव-गांव चले देखो मर्यादा अभियान, कह रही बिटिया माता पिता से आज, जहां होय शौचालय व घर में कीजौ काज के गीत की सराहना सभी ने की। कार्यक्रम में कटनी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष सत्यव्रत त्रिपाठी, जनपद पंचायत सदस्य मोहित पाठक, सरपंच अशोक निषाद सहित अन्य जनप्रतिनिधि व अधिकारीगण मौजूद रहे।

    और जानें :  # Katni News
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें