Naidunia
    Monday, October 23, 2017
    PreviousNext

    ग्राम संसद में भी समस्या समाधान की जगह केवल आश्वासन ही मिले

    Published: Fri, 21 Apr 2017 06:54 PM (IST) | Updated: Fri, 21 Apr 2017 06:54 PM (IST)
    By: Editorial Team

    पेयजल समस्या पर अधिकारियों से बात करना भी उचित नहीं समझा 21 एमडीएस-72

    केप्शन- कमिश्नर ओझा को पेयजल समस्या के लिए ज्ञापन सौंपते लोग।

    सुवासरा/मंदसौर। नईदुनिया न्यूज

    ग्रामीणों की समस्याओं समाधान के लिए गुरुवार शाम को सीतामऊ विकासखंड क्षेत्र के गुराड़िया प्रताप गांव में ग्राम संसद आयोजित की गई। इसमें उज्जैन के राजस्व संभाग कमिश्नर मधुरेश बाबू ओझा ने ग्रामीणों की समस्या जानी, परंतु उन्हें समाधान की जगह केवल आश्वासन हीं मिले। संसद में सुवासरा वार्ड तीन के लोगों ने पेयजल समस्या के समाधान की मांग करते हुए ज्ञापन सौंपा तो ओझा ने समाधान का आश्वासन दे दिया, परंतु जिम्मेदारों से बात करना तक उचित नहीं समझा। ग्रामीणों ने अंडर ब्रिज की मांग की तो रेलवे अधिकारियों से बात करने का आश्वासन मिला।

    संसद में सुवासरा वार्ड 3 के पार्षद भगवतीलाल मोदी व वार्डवासियों ने पानी की समस्या को लेकर ज्ञापन सौंपा। वार्डवासियों ने बताया कि गुराड़िया पंचायत का वार्ड 10, जो गुराड़िया पंचायत का वार्ड है परंतु यह ग्राम से दूर होकर नगर परिषद सुवासरा से लगा है। इसमें निवास करने वाले सारे नागरिकों का नाम सुवासरा की वोटर लिस्ट में दर्ज है। सभी वार्डवासियों द्वारा नगरपरिषद चुनाव में वोट किया जाता है, लेकिन जब वार्ड में विकास की बात होती है तो गुराड़िया पंचायत का हवाला देकर मना कर दिया जाता है। वर्तमान में इस वार्ड में पानी की समस्या से लोग परेशान हैं, लेकिन कहीं कोई सुनवाई नहीं हो रही है। मामले में कमिश्नर ओझा ने भी समस्या का हल करने का आश्वासन ही दिया। उन्होंने कहा कि पेयजल उपलब्ध होना नागरिकों का मौलिक अधिकार है, जिसका निराकरण जल्द ही किया जाएगा।

    प्रयास करेंगे

    ग्रामीणों व जनप्रतिनिधियों ने ओझा से गांव के बाहर स्थित बंद पड़े रेलवे फाटक को खुलवाने या उस स्थान पर अंडरब्रिज बनवाने की मांग की। इस पर ओझा ने राज्य शासन एवं रेलवे प्रशासन के साथ मिलकर प्रयास करने का आश्वासन दिया।

    विकास के लिए सबको

    आना होगा आगे

    शुभारंभ समारोह में कमिश्नर ओझा ने कहा कि गांव हो या खेती किसानी, इनके विकास के लिए सबको मिलजुलकर आगे आना ही होगा। एक और एक मिलकर ग्यारह बनें तो विकास की बात बने। गांव और गरीबों के विकास के लिए राज्य सरकार द्वारा ग्रामोदय से भारत उदय अभियान और कृषि महोत्सव प्रारंभ किया है। अपने जीवन स्तर में सुधार लाने व आर्थिक स्वावलंबन के लिए ग्रामीण अभियान का लाभ उठाएं।

    गांव का विकास उद्देश्य

    सुवासरा विधायक डंग ने कहा कि सबका एकमात्र उद्देश्य गांव का विकास करना है। ग्रामीणों का जीवन संवारने के लिए हम सब मिलकर प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि गुराड़िया प्रताप से पारदीखेड़ा के बीच आवागमन के लिए पुलिया बनाई जाएगी। पूर्व विधायक राधेश्याम पाटीदार, क्षेत्रीय जिला पंचायत सदस्य निहालचंद मालवीय ने भी विचार व्यक्त किए। इस अवसर पर प्रभारी कलेक्टर अर्जुनसिंह डाबर, जिपं सीईओ रानी बाटड़, संयुक्त संचालक कृषि उज्जैन डीके पांडेय, ग्राम सरपंच व उप सरपंच सहित कई ग्रामीण उपस्थित थे। संचालन प्रभारी उप संचालक सामाजिक न्याय डॉ.जेके जैन ने किया।

    और जानें :  # mandsaur news
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें