Naidunia
    Saturday, September 23, 2017
    PreviousNext

    उमरिया माता मंदिर के पुजारी की हत्या का मामला

    Published: Mon, 17 Jul 2017 08:45 PM (IST) | Updated: Mon, 17 Jul 2017 08:45 PM (IST)
    By: Editorial Team

    -नहीं चला आरोपियों का पता, घायल बयान देने की स्थिति में नहीं

    भानपुरा। नईदुनिया न्यूज

    उमरिया माताजी मंदिर कैलाशपुर के पुजारी की हत्या के चार दिन बाद भी आरोपियों का पता नहीं चल पाया है। उधर घायल का झालावाड़ में उपचार चल रहा है। वह अभी भी बयान देने की स्थिति में नहीं है। पुलिस मृतक की कॉल डिटेल निकाल रही है।

    13-14 जुलाई की दरमियानी रात में उमरिया माताजी मंदिर कैलाशपुर पर चोरी की नीयत से पहुंचे बदमाशों ने पुजारी गोरखनाथ की हत्या कर दी थी और पुजारी के साथी पूरीलाल गायरी को गंभीर घायल कर दिया था। घायल का झालावाड़ में उपचार चल रहा है वह अभी तक बयान देने की हालत में नहीं है। थाना प्रभारी जीएल बिलोनिया ने बताया कि पुलिस सभी बिंदुओं पर जांच कर रही है। मृतक के फोन की कॉल डिटेल भी निकाली जा रही है। शीघ्र ही इस हत्याकांड का पर्दाफाश हो जाएगा। ग्रामीणों ने बताया कि पुजारी गोरखनाथ का परिवार सनातन काल से मंदिर में पूजा कर रहा है उनका किसी से कोई विवाद नहीं था। उल्लेखनीय है कि पुजारी देशी जड़ी बूटियों से उपचार भी करते थे।

    व्यापारियों ने थाना प्रभारी से गश्त बढ़ाने की मांग की

    भानपुरा। नगर में लगातार हो रही चोरियों की घटनाएं हो रही है। 15 दिनों में आधा दर्जन से भी अधिक चोरियां हुई है। पूर्व की चोरियों का भी अब तक पता नहीं चल पाया है। भानपुरा की जगदीश मंदिर गली, सदर बाजार, धानमंडी के व्यापारी फिरोज मंसूरी, राजेंद्र भंडारी, महेश पनिहार, प्रदीप सोनी, प्रकाश अहीर, संजय जैन आदि ने एक हस्ताक्षरयुक्त पत्र थाना प्रभारी को लिखकर रात्रि गश्त बढ़ाने की मांग की है।

    और जानें :  # MANDSAUR NEWS
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें