Naidunia
    Sunday, September 24, 2017
    PreviousNext

    मंडी में लहसुन की हो रही बंपर आवक

    Published: Wed, 13 Sep 2017 11:39 PM (IST) | Updated: Wed, 13 Sep 2017 11:39 PM (IST)
    By: Editorial Team

    मंदसौर। नईदुनिया प्रतिनिधि

    इन दिनों कृषि उपज मंडी में लहसुन की बंपर आवक हो रही है। बुधवार को बंपर आवक होने से मंडी प्रशासन को गेट बंद करना पड़े, जिससे परिसर के बाहर डेढ़ से दो किमी वाहनों की लाइन लग गई। इधर मंडी में लहसुन की आवक अधिक होने पर किसानों को उचित दाम भी नहीं मिल रहे है। बुधवार को लहसुन के न्यूनतम दाम 1200 रुपए क्विंटल पहुंच गए। किसानों का कहना है कि लागत के मान से लहसुन के न्यूनतम भाव 3500 रुपए तय होना चाहिए।

    कृषि उपज मंडी में इन दिनों लहसुन और अन्य उपज की बंपर आवक हो रही है। बुधवार को कृषि उपज मंडी में लहसुन की बंपर आवक हुई। मंगलवार रात से ही बड़ी संख्या में किसान उपज लेकर मंडी पहुंचने लगे, सुबह मंडी खुली तो परिसर में लहसुन रखने की जगह ही नहीं बची। इस पर मंडी प्रशासन को अंदर व्यवस्था बनाए रखने के लिए मंडी में किसानों का प्रवेश बंद करना पड़ा। प्रवेश बंद किए जाने के बाद परिसर के बाहर वाहनों की लाइन लगने लगी, दोपहर तक मंडी के बाहर हजारों वाहनों की करीब दो किमी लंबी लाइन लग गई। इन किसानों को बुधवार रात को प्रवेश दिया गया। मंडी में बुधवार को 16 हजार कट्टे लहसुन, 6 हजार सोयाबीन, ढ़ाई हजार बोरी गेहूं सहित 29 हजार बोरी से अधिक उपज की आवक हुई।

    लहसुन के नहीं मिल रहे भाव

    मंडी में लहसुन की आवक अधिक होने पर किसानों को उचित मूल्य भी नहीं मिल रहा है। 3 हजार से 12 हजार तक बिकने वाली लहसुन के किसनों को वर्तमान में 1200 रुपए से लेकर 3 हजार तक के दाम मिल रहे हैं। बुधवार को भी न्यूनतम 1200 रुपए एवं अधिकतम 3500 रुपए तक भाव पहुंचे। इससे किसान परेशान हैं। किसानों का कहना है कि लहसुन की लागत भी नहीं निकल रही है। लहसुन के न्यूनतम भाव 3500 रुपए करने की मांग की। बॉक्स

    उचित दाम नहीं

    मंडी में लहसुन से लकर अन्य सभी उपज के दाम नहीं मिल रहे है। लहसुन के भाव सामान्य 1700 से 2500 तक मिल रहे हैं। इससे लागत भी नहीं निकल रही है।

    - विनोद जैन, अफजलपुर

    आवक अधिक

    लहसुन की आवक अधिक होने से व्यापारी किसानों को उचित मूल्य भी नहीं दे रहे है। वर्तमान में 2 हजार तक के भाव किसानों को दिए जा रहे है। शासन को लहसुन का न्यूनतम मूल्य 3500 रुपए करना चाहिए।

    -टेकचंद रत्नावत, देथलीबड़ी।

    और जानें :  # mandsaur news
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें