Naidunia
    Monday, November 20, 2017
    PreviousNext

    अवैध टैक्सियों के खिलाफ बोला तो बस मालिकों को धमकाया

    Published: Mon, 18 Sep 2017 12:21 AM (IST) | Updated: Mon, 18 Sep 2017 12:21 AM (IST)
    By: Editorial Team

    मंडला। नईदुनिया प्रतिनिधि

    चिलमन चौक से डिंडौरी मार्ग में बड़ी संख्या में अवैध रूप से टैक्सियां चल रही हैं। बिना परमिट चल रहे वाहनों पर रोक लगाने थाने से लेकर पुलिस महानिरीक्षक तक शिकायत की गई। लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। जिसके चलते बस संचालक और कर्मचारी सड़कों पर आ गए हैं। दूसरी ओर अवैध टैक्सी संचालक मारपीट पर उतर आए हैं। उन्होंने बसों को भी रोकने का प्रयास किया। जिसकी शिकायत बस संचालक और कर्मचारियों द्वारा थाने में की गई है। बस संचालकों का आरोप है कि अवैध टैक्सी संचालक पुलिस को इंट्री देकर वाहन चलाने का दावा कर रहे हैं।

    रविवार को डिंडौरी मार्ग के बस आपरेटर विकास जायसवाल और अन्य आपरेटर, उनके कर्मचारी टैक्सी चालकों को परमिट में ही चलाने का आग्रह कर रहे थे। इस दौरान सुबह 11 बजे के आसपास राधा स्वामी सत्संग व्यास भवन के पास तीन जीप में भरकर लोग आए और उन्हें जान से मारने की धमकी दी। एक जीप ने बस मालिक की कार क्रमांक एमपी 20 सीई 5531 को जोरदार टक्कर भी मारी जिससे कार एक पहिया फट गया। कार में बैठे बस मालिक विकास जायसवाल ने डायल 100 को कई बार फोन लगाया और कंट्रोल रूम को सूचना दी लेकिन पुलिस नहीं पहुंची। इसके बाद विकास ट्रेवल्स की बस को रोककर मारपीट का प्रयास किया।

    एक दिन पहले भी हुआ था विवाद

    बस ऑपरेटर व उनके कर्मचारियों विकास, विजय तिवारी, किशोर रजक, विजय सिंधिया ने बताया कि एक दिन पहले शनिवार को भी लोगों ने अवैध वाहन संचालन बंद करने टैक्सी वालों से आग्रह किया। तो टैक्सी वाले गुंडा गर्दी करने लगे। 100 डायल को सूचना दी। लेकिन आधे घंटे बाद पहुंची। तब तक गुंडागर्दी करने वाले जा चुके थे। इसकी भी लिखित शिकायत पुलिस थाने में की गई।

    आटो और टैक्सी चालकों से वसूली के लिए ठेकेदार नियुक्त

    शहर तथा ग्रामीण क्षेत्रों में लगभग 1 हजार से अधिक आटो है। शहर से आसपास के क्षेत्रों में पहुंचने वाले आटो चालकों से एंट्री के नाम पर 300 रूपए वसूले जाते रहे हैं। जिसकी राशि अब बढ़ा दी गई है। अब विभाग 2 निजी व्यक्तियों को इस काम के लिए नियुक्त किया गया है। चिलमन चौक से डिंडौरी मार्ग से होकर अन्य मार्गों पर करीब दो दर्जन जीप अवैध रूप से चलाई जा रही हैं। इनसे भी हफ्ता वसूला जा रहा है। जिसके चलते अवैध टैक्सी संचालकों के हौसले बुलंद हैं और वे गुंडागर्दी कर रहे हैं। इससे बस संचालकों को वाहन चलाने में दिक्कत आ रही है।

    ------------

    अवैध टैक्सी संचालन के विरोध में आरटीओ, यातायात प्रभारी, कोतवाली थाना सभी को आवेदन दिया। मोटर मालिकों ने कार्रवाई न होते देख पुनः आवेदन दिया। लेकिन अवैध टैक्सी चालकों पर कोई कार्रवाई नहीं की गई।

    -विजय तिवारी, बुकिंग क्लर्क

    विकास ट्रेवल्स, मंडला।

    जीप सवार में लोगों ने मेरी कार को सीधी टक्कर मारी। जिससे कार का टायर फट गया। लोग गाली गलौज कर रहे थे और जान से मारने की धमकी दी है। जिसकी लिखित शिकायत थाने में दी गई है।

    -विकास जायसवाल, बस मालिक।

    नियमित रूप से वाहनों की चेकिंग का अभियान आरटीओ से बात कर चलाया जाएगा। अवैध रूप से चल रहे वाहनों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

    -राहुल कुमार, एसपी मंडला।

    पहले बस ऑपरेटर बगैर परमिट गाड़ी चलाते थे। जिसके चलते राशि दी जाती थी। अब कोई भी बस बगैर परमिट नहीं चल रही तो किस बात का रूपया दिया जाएगा।

    -लीला बर्वे, अध्यक्ष

    बस ऑपरेटर एसोसिएशन।

    डिंडौरी मार्ग में चल रही अवैध टैक्सियां, टैक्सी चालकों व बस आपरेटरों में विवाद

    पुलिस पर लगाया आरोप देते हैं एंट्री

    17एमडीएल9 मंडला। पुलिस थाने शिकायत करने पहुंचे बस आपरेटर व कर्मी।

    17एमडीएल10 मंडला। बस मालिक की वह कार जिसे मारी गई शिकायत।

    और जानें :  # mdl news
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें