Naidunia
    Saturday, December 16, 2017
    PreviousNext

    चपरासी महिला कर्मी एमए अर्थशास्त्र, बीएड भी

    Published: Thu, 18 May 2017 12:48 AM (IST) | Updated: Thu, 18 May 2017 04:57 PM (IST)
    By: Editorial Team
    woman chaprashi 2017518 124811 18 05 2017

    महू। कलेक्टर नरहरि ने दोपहर को तहसील कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। वे करीब डेढ़ घंटे यहां रुके। उन्होंने बंद कमरे में एसडीएम और तहसीलदार से चर्चा की। इस दौरान चपरासी के पद पर पदस्थ एक कर्मचारी से बात करते हुए नरहरि ने उसकी शिक्षा के बारे में पूछ लिया और जब उस महिला कर्मी ने कहा कि उसके पास एमए अर्थशास्त्र की डिग्री है तो वह अचरज में नजर आए। सूत्रों के मुताबिक कलेक्टर ने यहां कुछ पुरानी जमीनों के संबंध में फाइलों की जांच की। ये जमीनें खासी विवादित बताई जाती हैं।

    कलेक्टर ने तहसील के एक-एक कक्ष का निरीक्षण किया एवं जानकारी ली। कलेक्टर को इस दौरान तहसीलदार कार्यालय में चपरासी के पद पर पदस्थ पूनम गौट ने जब बताया कि वह अर्थशास्त्र में एमए.,बीएड उत्तीर्ण है और कंप्यूटर एवं टाइपिंग भी जानती है तो नरहरि ने आश्चर्य जताया। उन्होंने कहा कि कर्मचारी को किसी अन्य पद पर बैठाकर उससे बेहतर सेवाएं ली जा सकती हैं। इस पर वहां मौजूद कनिष्ठ अधिकारी को अमल करने के लिए कहा। पूनम को भी इससे संतोष हुआ, क्योंकि कुछ समय पहले वह चार अन्य कर्मियों के साथ व्यापमं के मार्फत इस सेवा में आई थी। अन्य कर्मियों ने अपनी शिक्षा के आधार पर अन्य नौकरियां करना बेहतर समझा लेकिन पूनम को यह मौका नहीं मिला। अब उन्हें उम्मीद है कि शायद बेहतर सेवा देने के अवसर मिलें।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें