Naidunia
    Sunday, September 24, 2017
    PreviousNext

    श्रीराम मंदिर में पितृ तर्पण का समापन आज

    Published: Mon, 18 Sep 2017 12:21 AM (IST) | Updated: Mon, 18 Sep 2017 12:21 AM (IST)
    By: Editorial Team

    करेली। नईदुनिया न्यूज

    पावन पितृपक्ष के चलते नगर के अग्रणी देवालय श्रीराम मंदिर प्रांगण में प्रतिदिन किए जा रहे सामूहिक पितृ तर्पण कार्य का समापन सोमवार सुबह 8.30 बजे धर्म आराधना पूर्वक किया जाएगा। इसके बाद मंगलवार को पितृमोक्ष अमावस्या के दिन रेतघाट नर्मदा तट बरमान में सुबह आस्थापूर्वक कुशा विसर्जन किया जाएगा। श्रीराम मंदिर में प्रतिदिन विद्वान आचार्य पं.शशिकांत दुबे शास्त्री द्वारा प्रातः 7 बजे से तीन पारी में तर्पण कार्य संपन्न कराया जा रहा है। इसमें बड़ी संख्या में तर्पणकर्ता बंधु सहभाग कर धर्मलाभ ले रहे हैं व विधि-विधान से देव, ऋ षि, यम व पितरों को जल अर्पण कर रहे हैं।

    आचार्यश्री को देंगे भेंट

    श्रीराम मंदिर में समापन दिवस गुरुवार को परंपरानुसार तर्पण परिवार द्वारा आचार्य जी का तिलक, सम्मान किया जाएगा। सभी तर्पणकर्ता दैनिक तर्पण कार्य के उपरांत प्रातः 8।30 बजे श्रीराम मंदिर में एकत्र होंगे व भजन, संकीर्तन कर प्रभु की आराधना करेंगे। जिसके उपरांत तर्पण परिवार की ओर से वरिष्ठजनों द्वारा आचार्यश्री का सामूहिक तिलक, श्रीफल, षाल से सामूहिक सम्मान किया जाएगा। बाद में सभी तर्पणकर्ता व्यक्तिगत रूप से यथायोग्य अर्थ, द्रव्य, अन्न के माध्यम से आचार्यश्री का तिलक करेंगे। जिन आचार्य द्वारा 16 दिवस नगर के समस्त तर्पण कर्ताओं से विधि विधान से तर्पण कराया जाकर उन पर जो कृपा की है, उसके प्रति कृतज्ञता ज्ञापित करते हुए तर्पण परिवार द्वारा आचार्यश्री के चरणों में संपूर्ण आस्थाभाव के साथ सामूहिक भेंट समर्पित की जाएगी।

    160 तर्पणकर्ता कर रहे जल अर्पण

    इस वर्ष पितृपक्ष 6 सितंबर से प्रारंभ होकर 19 सितंबर पितृमोक्ष अमावस्या पर समाप्त होगा। 6 सितंबर को बरमान घाट से पितृ तर्पण का कार्य प्रारंभ किया गया जो 7 सितंबर से 18 सितंबर तक प्रतिदिन प्रातः 7 बजे से 3 पारी में आयुक्त श्री सनातन मंदिर समिति की संरक्षणता में श्रीराम मंदिर प्रांगण में विद्वान आचार्य पं.शशिकांत दुबे शास्त्री पनारी वालो द्वारा विधि विधान से संपन्न कराया गया। श्रीराम मंदिर में किए गए सामूहिक पितृ तर्पण कार्य में प्रतिदिन लगभग 160 तर्पणकर्ताओं ने सहभाग कर धर्मलाभ लिया। मंगलवार 19 सितंबर को पितृमोक्ष अमावस्या पर पितृ विसर्जन बरमान रेतघाट में संपन्न होगा।

    और जानें :  # nap news
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें