Naidunia
    Sunday, April 23, 2017
    PreviousNext

    साक्ष्य छुपाने खदान से निकालकर नर्मदा नदी में फेंक दी थी लाश

    Published: Sat, 22 Apr 2017 03:58 AM (IST) | Updated: Sat, 22 Apr 2017 03:58 AM (IST)
    By: Editorial Team

    साक्ष्य छुपाने खदान से निकालकर

    नर्मदा नदी में फेंक दी थी लाश

    -रेत खदान धंसने से हुए हादसे में हुई थी मौत

    -छोटी कसरावद नर्मदा पुल के नीचे नर्मदा किनारे मिली लाश का मामला

    निसरपुर। नईदुनिया न्यूज

    छोटी कसरावद नर्मदा पुल के नीचे नर्मदा किनारे गत सोमवार को राजू पिता कालू चारन (मेघवाल) गणपुर की लाश मिली थी। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की। इसमें पता चला कि रेत खदान धंसने से राजू की मौत हो गई थी। साक्ष्य छुपाने के लिए उसके साथी मजदूरों ने खदान से निकालकर लाश को नर्मदा नदी में फेंक दिया था।

    कुक्षी एसडीओपी प्रियंका डुडवे एवं कुक्षी टीआई सीबी सिंह के निर्देशन में निसरपुर पुलिस चौकी द्वारा जांच की गई। एएसआई दीपक देवरे ने बताया कि 15 अप्रैल को राजू चारन को साथी मजदूर राहुल, मुन्नाा, घमंडिया, राकेश, निवासी लिंगवा अपने साथ ग्राम गणपुर छोटी कसरावद के यहां ट्रैक्टर में रेत भरने के लिए मजदूरी पर ले गए थे। उधर, ग्राम चिखल्दा निवासी लड्डू पिता इशाक एवं भय्यू पिता इशाक भी ग्राम गणपुर छोटी कसरावद रेत खदान पर दो ट्रैक्टर-ट्रॉली लेकर मजदूरों को रेत भरने के लिए ले गए थे। जहां खदान धंसने की आशंका के चलते भय्यू व लड्डू को मजदूरों ने रेत भरने से मना कर दिया था, लेकिन लड्डू और भय्यू ने अपने साथियों के साथ राजू सहित अन्य मजदूरों को अपशब्द बोलकर जबरन खदान में उतारा। शाम करीब 4 बजे राजू, राहुल और बालू खदान में रेती भर रहे थे। अचानक खदान धंसने से ये तीनों दब गए। राजू चारन खदान के गहरे हिस्से में होने से पूरा दब गया जबकि बालू कमर तक और राहुल का केवल दाहिना हाथ दिख रहा था। इन सभी को साथी मजदूरों ने खींचकर बाहर निकाला, लेकिन राजू को ये लोग नहीं निकाल पाए। भय्यू व लड्डू ने धमकी देकर मजदूरों को बैठाए रखा। मजदूरों को सौ-सौ रुपए खर्च के लिए दिए। इसके बाद भय्यू-लड्डू राजू को रेत से निकालने का प्रयास करने लगे। तब सभी मजदूर मौका देखकर भाग गए। मजदूरों ने डर के कारण घटना की जानकारी किसी को नहीं दी।

    दो दिन बाद नर्मदा किनारे मिली लाश

    16 अप्रैल को राजू की पत्नी लक्ष्मीबाई ने सिंघाना (मनावर) पुलिस चौकी पर गुमशुदगी दर्ज कराई। इसी दिन छोटी कसरावदा में नर्मदा किनारे एक व्यक्ति की लाश मिली। शंका के आधार पर परिजन नर्मदा किनारे नदी पर पहुंचे तो इस लाश की पहचान राजू के रूप में हुई। इस पर निसरपुर पुलिस चौकी पर सूचना दी गई। पुलिस के अनुसार भय्यू व लड्डू ने पूछताछ में बताया कि खदान में धंसने से राजू की मौत हो गई थी। साक्ष्य छुपाने की नीयत से राजू को रेत खदान से निकालकर नर्मदा नदी में फेंक दिया था। जांच करने पर आरोपी लड्डू एवं भय्यू सहित उनके दो अन्य साथियों के विरुद्ध प्रकरण दर्ज किया है। मामले में और भी कई आरोपियों के होने की संभावना है।

    पाबंदी के बाद भी खोखली कर रहे नर्मदा

    ग्रीन ट्यूबनेल के फैसले और सुप्रीम कोर्ट के आदेश के तहत नर्मदा किनारों और सरदार सरोवर परियोजना के डूब क्षेत्र में अवैध रेत पर पाबंदी लगा रखी है। इसके बावजूद निसरपुर सहित नर्मदा नगर, सुलगांव, बुटगांव, चिखल्दा, भंवरिया, खराजना आदि जगहों पर नर्मदा नदी को खोखली किया जा रहा है। साथ ही रेत का अवैध परिवहन हो रहा है।

    और जानें :  # nisarpur narmda
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी