Naidunia
    Monday, August 21, 2017
    PreviousNext

    शौक पूरा करने के लिए करता था चोरी

    Published: Tue, 20 Jun 2017 10:51 PM (IST) | Updated: Tue, 20 Jun 2017 10:51 PM (IST)
    By: Editorial Team

    शहडोल।

    कीमती कपड़े और मोबाइल का शौक पूरा करने के लिए चोरी करने वाले तीन चोरियों का शातिर अपराधी को अमलाई पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इसके पास से 50 हजार कीमत का सामान भी जब्त किया है। आरोपी से तीन चोरियों का खुलासा हुआ है जो अलग-अलग स्थानों पर हुई थीं। टीआई अरुण पाण्डेय ने बताया कि शातिर अपराधी संजय बर्मन उर्फ संजू पिता दिलीप बर्मन निवासी वार्ड नम्बर 6 अमलाई को गिरफ्तार किया गया है। इसके द्वारा तीन चोरियों का खुलासा हुआ है।

    श्री पाण्डेय ने बताया कि पिछले 23-24 फरवरी की दरम्यानी रात को अखिलेश राय पिता रामविलास राय (41) निवासी रुंगटा की किनारा दुकान का ताला तोड़कर दस हजार कीमत का सामान चोरी हुआ था। इसकी शिकायत थाने में दर्ज कराई गई थी और विवेचना चल रही थी। इसके बाद 19 मार्च की दरम्यानी रात राकेश दास पिता राधेदास (31) निवासी झगरहा की स्कूटी क्रमांक एमपी 18 एमएफ 0498 चोरी हो गई थी। इसकी कीमत 35 हजार रुपए आंकी गई थी और थाने में शिकायत दर्ज कराई गई थी। इसके बाद पिछले 29 मई की दरम्यानी रात मोहम्मद नईम पिता जान मोहम्मद (32) एवं मोहम्मद समीम पिता मोहम्मद सलीम (38) निवासी अमलाई के धनपुरी नम्बर तीन स्थित वेल्डिंग एवं कूलर की दुकानों में चोरी हुई। यहां से भी 30 हजार कीमत का सामान चोरी हुआ। इसकी भी शिकायत थाने में दर्ज कराई गई।

    रहन-सहन से हुई शंका

    टीआई श्री पाण्डेय ने बताया कि तीनों चोरियों की विवेचना के दौरान शातिर अपराधी संजय उर्फ संजू बर्मन निवासी अमलाई के ऊपर शंका हुई। इसके रहन-सहन से लगातार शंका हुई तब इसे पकड़ा गया और पूछताछ की गई। पूछताछ के दौरान इसने बताया कि अपने साथी सूरज बर्मन पिता कामता प्रसाद बर्मन निवासी उसलापुर अमलाई के साथ मिलकर तीनों चोरियों को अंजाम दिया है। तीनों स्थानों से चोरी गया सामान भी जब्त कराया। किराना सामान, स्कूटी एवं वेल्डिंग कटर, ड्रील मशीन, टिल्लू मशीन, टूल बाक्स आदि सामान आरोपी ने जब्त कराया जिसकी कीमत 50 हजार रुपए है।

    आधा दर्जन से अधिक मामले

    थाना प्रभारी ने बताया कि आरोपी संजय उर्फ संजू बर्मन के विरुद्ध चोरी, लूट एवं मारपीट के मामले अमलाई थाने में दर्ज हैं। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह महंगे कपड़े और मोबाइल का शौक पूरा करने के लिए चोरी करता था। उसकी खुद की कमाई इतनी नहीं है कि वह यह शौक पूरा कर सकें इसलिए वह चोरी का रास्ता अपनाया था। टीआई श्री पाण्डेय ने बताया कि पुलिस अधीक्षक सुशांत सक्सेना, एसडीओपी शिवेन्द्र सिंह बघेल के द्वारा दिये गए दिशा निर्देश के तहत अपने सहयोगी सहायक उप निरीक्षक सूर्य प्रताप सिंह, रोशन लाल पाण्डेय, प्रधान आरक्षक वेद प्रकाश तिवारी, भारत सिंह के साथ मिलकर कार्रवाई की।

    और जानें :  # n nnnn
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें