Naidunia
    Sunday, September 24, 2017
    PreviousNext

    लड़कियों को बताए नान चाक, ड्रेगन स्टिक से लड़ने के गुर

    Published: Mon, 18 Sep 2017 12:20 AM (IST) | Updated: Mon, 18 Sep 2017 12:20 AM (IST)
    By: Editorial Team

    करेली। नईदुनिया न्यूज

    बरमान महाविद्यालय में परिश्रम संस्था के तत्वाधान 11 सितंबर सें आयोजित 6 दिवसीय महिला आत्मरक्षा प्रशिक्षण कार्यक्रम का गत दिवस समापन हुआ। 6 दिन तक चले कार्यक्रम में कुल 51 लड़कियों को सिवनी से आई प्रशिक्षिका राधिका कश्यप ने कराते के बेसिक स्टेप बताए, साथ ही नान चाक, ड्रेगन स्टिक से लड़ना बताया। छह दिन तक चले प्रशिक्षण कार्यक्रम में लड़कियों ने राह चलते होने वाली छेड़ छाड़ अभद्र टिप्पणी और किसी भी विपरीत परिस्थिति से निपटने का प्रशिक्षण लिया। राह चलते किसी मनचले की गलत हरकतों जैसे हाथ पकड़ लेना, चोटी पकड़ लेना जैसी स्थिति को सरल तरीके से निपटने की कला मुख्य प्रशिक्षक ने लड़कियों को सिखाई। साथ ही मुख्य प्रशिक्षक ने प्रशिक्षणार्थियों को बिना परंपरागत हथियार के पेन, बालो में लगाने वाली पिन और दुपट्टे को भी कैसे हथियार बनाया जाता है ये बताया।

    कराते-जूडों की भी चर्चा

    प्रशिक्षक राधिका कश्यप ने कराते, जूडों में खेल कूद के क्षेत्र में संभावनाओं और अवसर पर भी चर्चा की। 16 सितंबर को शाम सायं 4 बजे कार्यक्रम का औपचारिक समापन हुआ इसमें सभी प्रशिक्षणार्थियों को प्रशिक्षण पूरा करने का प्रमाण पत्र भेंट किया गया। परिश्रम के सचिव अमित तिवारी ने परिश्रम के अन्य कार्यक्रमो की जानकारी सभी को दी। संथा अध्यक्ष और कार्यक्रम संचालक महेंद्र कौरव ने कार्यक्रम की सफलता के लिए सभी का धन्यवाद दिया और साथ ही आयोजन के लिए कहा कि नवरात्रि के पूर्व शक्ति आराधना संपन्न हुई। उन्होंने 5 माह के अंदर पुनः 1 माह का प्रशिक्षण शिविर लगाने की भी घोषणा की। कार्यक्रम की संयोजक नितिशा तिवारी ने आभार प्रस्तुत किया सभी प्रशिक्षण प्राप्त लड़कियों ने कार्यक्रम के आयोजन की सराहना की। संस्था ने अंत में किए रेटिंग सर्वे में सभी प्रशिक्षणार्थियों ने 5 में से 4 रेटिंग अंक आयोजन को दिए। कार्यक्रम में संस्था के सदस्य प्रियंका तिवारी, अमन तिवारी, सचिन सिलावट, अजय पटेल, साधना पटेल, दीपा नेमा, ज्योति पटेल, हर्षना दुबे, सुनील मालवीय, आशीष साहू आदि उपस्थित रहे।

    और जानें :  # nsp news
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें