Naidunia
    Sunday, December 4, 2016
    PreviousNext

    शर्मनाक : 'ऑपरेशन कायाकल्प' की दौड़ से बाहर हुआ जिला अस्पताल

    Published: Fri, 02 Dec 2016 04:00 AM (IST) | Updated: Fri, 02 Dec 2016 04:00 AM (IST)
    By: Editorial Team
    01dws41 02 12 2016

    देवास। अस्पतालों की हालत सुधारने के लिए केंद्र सरकार ने ऑपरेशन कायाकल्प शुरू किया है। प्रदेश सहित संभाग के अन्य अस्पतालों ने इसके लिए जी तोड़ मेहनत की हैं। इधर 400 बेड की क्षमता वाला 3 मंजिला जिला अस्पताल कायाकल्प की दौड़ से ही बाहर हो गया है। 2014 में ऑपरेशन कायाकल्प में शामिल हुआ था तो 45 फीसदी नंबर ही पा सका था। शर्मनाक बात यह है कि अस्पताल दो सालों में अपने आप को इसके लिए तैयार नहीं कर पाया। जबकि पहले की प्रतियोगिता में पिछड़ने के बाद तैयारी जोरदार होना थी। जिम्मेदार अब अगले साल कायाकल्प प्रतियोगिता में शामिल होने का दम जरुर भर रहे हैं। जानकारी के अनुसार इस साल ऑपरेशन कायाकल्प में शामिल होने के लिए जिला अस्पताल प्रबंधन ने तैयारी शुरू की थी। सारे संसाधन, सेवा सुविधा, भवन का रखरखाव आदि सभी बातों का मूल्यांकन किया। एक-एक बिंदु की बारीकी से अध्ययन कर लिस्टिंग की गई। लेकिन जब स्थिति देखी तो खुद को दौड़ से बाहर रखना ही मुनासीब समझा।

    ये हैं बड़ी कमियां -

    जानकारी के अनुसार अस्पताल प्रबंधन ने जो कमियां पाई उनमें अस्पताल में ड्रेनेज सिस्टम नहीं है, बरामदे से लेकर वार्डों तक की लाइटिंग मानक के हिसाब से नहीं, बिल्डिंग का रखरखाव ठीक नहीं, जगह-जगह पानी टपकता है, मरीजों को पीने के लिए फिल्टर वाटर मुहैया नहीं करवा पा रहे, आवारा मवेशियों की रोकथाम नहीं, स्टाफ की कमी से वार्डों का मेंटेनेंस उचित नहीं, कचरा प्रबंधन व प्रसाधन का उचित प्रबंध नहीं।

    पिछले साल भी थे दौड़ से बाहर

    जानकारी के अनुसार पिछले साल भी जिला अस्पताल ऑपरेशन क्वालिटी की दौड़ से बाहर ही रहा था। बताया जाता है कि इसके पहले 2014 में वेरिफिकेशन करने आई दोनों ही टीमों के मार्क के क्रॉस वेरिफिकेशन के बाद 45 नंबर के आसपास ही आए थे। जबकि दौड़ में बने रहने के लिए कम से कम 70 नंबर लाना होते हैं।

    पूरी कोशिश कर रहे हैं

    इस संबंध में आरएमओ डॉ. एमएस गोसर का कहना है कि ऑपरेशन क्वालिटी के लिए अस्पताल की हर चीज का मुआयना किया गया था। लेकिन हम पुरानी बिल्डिंग, ड्रेनेज सिस्टम व कुछ अन्य मूलभूत कारणों से खुद को तैयार नहीं कर सके। यह सारे काम लोक निर्माण के माध्यम से होना है। पूरी कोशिश है कि अगली बार ऑपरेशन क्वालिटी में शामिल होकर अधिक से अधिक नंबर प्राप्त करें।

    और जानें :  # hospital # jila # operation # kayakalp
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी