Naidunia
    Wednesday, October 18, 2017
    PreviousNext

    15 अगस्त को स्कूलों में मिलना है विशेष भोजन, अभी तक न परमिट मिले, न पैसे

    Published: Mon, 14 Aug 2017 04:04 AM (IST) | Updated: Mon, 14 Aug 2017 04:04 AM (IST)
    By: Editorial Team

    विद्यार्थियों को देना है स्पेशल खाना, लेकिन अभी तक स्कूलों व समूहों में कोई व्यवस्था नहीं हुई

    राजगढ़ । नवदुनिया प्रतिनिधि

    प्रदेश सरकार द्वारा भले ही स्कूलों में अध्ययनरत विद्यार्थियों को स्वतंत्रता दिवस के मौके पर स्पेशल खाना प्रदान करने के आदेश प्रसारित किए गए हैं, लेकिन यहां पर अभी तक न तो संबंधितों को गेहूं के परमिट मिल सके और न पैसा। ऐसे में 15 अगस्त को हजारों बच्चों को कैसे मध्या- भोजन मिलेगा अपने आप में बड़ी समस्या है।

    उल्लेखनीय है कि 15 अगस्त को जिलेभर के प्राथमिक एवं माध्यमिक स्कूलों में अध्ययनरत बच्चों को स्पेशल मध्या- भोजन प्रदान करने के निर्देश हाल ही में प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा प्रदान किए गए हैं। आदेश में जिलेभर के स्कूल शिक्षकों एवं मध्या- भोजन संचालित करने वाले समूहों को विशेष निर्देश प्रदान किए हैं कि 15 अगस्त स्कूलों में अध्ययनरत बच्चों को स्पेशल भोजन प्रदान किया जाए। उन्होंने आदेशित किया है कि सभी बच्चों को अनिवार्य रूप से स्पेशल भोजन प्रदान किया जाए, लेकिन खास बात यह है कि भोजन देने के लिए प्रशासन द्वारा 13 अगस्त देर शाम तक न तो समूहों को परमिट प्रदान किए गए और न ही राशि प्रदान की गई, जिसके कारण समूह चलाने वालों से लेकर शिक्षक-शिक्षिकाएं तक असमंजस की स्थिति में हैं।

    वापस नहीं आ सके परमिट

    जानकारी के मुताबिक जिस परमिट के आधार पर स्व सहायता समूहों को गेहूं मिलता है वह परमिट वापस नहीं आ सके। जनशिक्षकों द्वारा ऐसे परमिट लंबे समय पूर्व स्कूल के शिक्षक-शिक्षिकाओं को प्रदान किए गए थे। ऐसे में शिक्षकों द्वारा संबंधित परमिटों पर हस्ताक्षर एवं स्कूल की पदमुद्राएं लगाकर जनशिक्षकों को दे दिए। इसके बाद जनशिक्षकों द्वारा उन्हें बीआरसी में जमा करा दिए। बीआरसी से वापस परमिट आवश्यक औपचारिकताएं पूर्ण होने के बाद संबंधित समूहों को मिलना चाहिए थे। तब ही परमिटों के आधार पर उन्हें गेहूं प्रदान किए जाने थे, लेकिन अभी तक तो समूहों को परमिट ही प्रदान नहीं किए गए तो वह कैसे शासकीय उचित मूल्य की दुकानों पर पहुंचकर गेहूं प्राप्त करेंगे।

    खातों में नहीं डल पाया पैसा

    जानकारी के मुताबिक मध्या- भोजन प्रदान करने के लिए स्व सहायता समूहों को पैसों की भी आवश्यकता होती है। ऐसे में सरकार द्वारा स्व सहायता समूहों को पैसों का भी भुगतान करना होता है, लेकिन 13 अगस्त तक तो समूहों के खातों पैसा भी नहीं डाला जा सका।

    यह देना है स्पेशल भोजन में

    जानकारी के मुताबिक जिलेभर के प्राथमिक एवं माध्यमिक स्कूलों में अध्ययनरत हजारों विद्यार्थियों को जो स्पेशल खना 15 अगस्त को दिया जाना है, उसमें मुख्य रूप से खीर, पूढ़ी, दो सब्जी, हलवा आदि को शामिल किया गया है।

    फैक्ट फाइल

    -जिले के कुल प्रावि स्कूल 1922

    -जिले के कुल मावि स्कूल 745

    -जिले में प्रावि में अध्ययनरत बच्चे 86365

    -जिले में मावि में अध्ययनरत बच्चे 59463

    -समूहों में रसोईए हैं 5800 शासन स्तर से आएंगे परमिट

    अब पूरा सिस्टम ऑनलाइन हो गया है। इसलिए पैसे डायरेक्ट खातों के लिए सरकार से डाले जा चुके हैं। गेहूं का भी यही सिस्टम है। वह परमिट भी सीधे समूहों के पास शासन स्तर से आएंगे। हो सकता है कि बैंकों का अवकाश होने या अन्य किसी कारण से ऐसी समस्या आ रही हो। मैं दिखवाता हूं।

    प्रवीणसिंह, सीईओ जिपं राजगढ़

    फोटो 1208 आरजे 01 राजगढ़। जिला पंचायत कार्यालय।

    और जानें :  # rajgarh news
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें