Naidunia
    Sunday, October 22, 2017
    PreviousNext

    अरनिया माता में छाया अंधेरा, रोजमर्रा के काम प्रभावित

    Published: Sat, 14 Oct 2017 04:11 AM (IST) | Updated: Sat, 14 Oct 2017 04:11 AM (IST)
    By: Editorial Team

    गांव के 6 में से केवल दो ट्रांसफार्मर चालू हालत में

    भैंसवामाता/सारंगपुर। नवदुनिया न्यूज

    सारंगपुर की ग्राम पंचायत अरनिया माता में 12 सौ की आबादी वाले गांव में पिछले छह माह से लोग नारकीय जीवन जीने को मजबूर हैं। गांव में बिजली आपूर्ति बंद पड़ी है। ग्रामीणों ने बताया कि अरनिया माता गांव में पिछले छह माह से अंधेरे में जीवन जीने को विवश हैं। गांव में अटल ज्योति के तहत्‌ 6 ट्रांसफार्मर लगाए गए हैं, उनमें से भी तीन ट्रांसफार्मर विभाग ने हटा दिए हैं। वर्तमान में कक्षा दसवीं एवं बारहवीं में अध्ययनरत्‌ विद्यार्थियों के लिए समस्याएं आने वाली हैं, क्योंकि गांव में पिछलें छह माह से अंधेरे में जीवन यापन किया जा रहा है। इससे विद्यार्थी चिमनी लगाकर पढ़ाई करने को मजबूर हैं। गांव के फूलसिंह नागर, चन्दरसिंह टेलर, हरिसिंह चौकीदार आदि ने बताया कि अधिकांश परीक्षार्थी रात के समय में पढ़ाई करते हैं, लेकिन बिजली नहीं होने के कारण वे पढ़ाई नहीं कर पा रहे हैं।

    बिजली नहीं होने से हो रहा नुकसान

    गांव के किसान होकमसिंह नागर, अनोखीलाल नागर ने बताया कि खेतों में अब खरीफ की फसल के लिए पानी की जरूरत पड़ेगी लेकिन बिजली नहीं होने से आने वाले समय में वहां भी नष्ट हो सकती है। साथ ही गांव की महिलाओं में राजूबाई नागर, मेहताबबाई, गोकुलबाई नागर आदि ने बताया कि बिजली नहीं होने से ग्रामीणों को काफी परेशानियों का सामना करना पड रहा है। जैसे कि बिजली नहीं होने से आटा चक्की, ट्यूबवेल सहित अन्य इलेक्ट्रानिक सामग्रियां पिछलें छः माह से बंद हैं।

    और जानें :  # Rajgarh News
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें