Naidunia
    Wednesday, September 20, 2017
    PreviousNext

    वीडियो : कोयले से भरी मालगाड़ी के इंजन में लगी आग

    Published: Sat, 20 May 2017 12:54 AM (IST) | Updated: Sat, 20 May 2017 10:18 AM (IST)
    By: Editorial Team
    fire in train engine 2017520 10181 20 05 2017

    सागर, नवदुनिया प्रतिनिधि। गणेशगंज से सागर की ओर आ रही कोयले से भरी एक मालगाड़ी में शुक्रवार को सुबह अचानक भीषण आग लग गई। प्वाइंटसमेन के मैसेज के बाद मालगाड़ी को शाहपुर रेलवे स्टेशन तक लाया गया, लेकिन इस बीच आग भड़कने से उस पर काबू पाने में काफी समय लग गया। वहीं आगजनी के कारण ओएचई लाइन बंद करना पड़ी, जिससे करीब दो घंटे से ज्यादा समय तक रेल यातायात प्रभावित रहा।

    जानकारी के अनुसार कोयले से भरी केपीआरजे मालगाड़ी सुबह करीब साढ़े 11 बजे गणेशगंज रेलवे स्टेशन से सागर की ओर आ रही थी। इस दौरान थ्रू जा रही मालगाड़ी के इंजन के नीचे आग लगी देख यहां ड्यूटी कर रहे प्वाइंटमेन ने सेट पर सूचना दी कि मालगाड़ी के दूसरे नंबर के इंजन के नीचे से आग निकल रही है। यह आग समय अधिक होने के कारण बढ़ती गई और ऊपर के हिस्से में तक पहुंच गई।

    ट्रेन को सीधे शाहपुर रेलवे स्टेशन पर लाया गया और इस बीच रेलवे के अफसरों ने अग्निशमन यंत्र व फायर ब्रिगेड को सूचना देकर स्टेशन पर बुला लिया। यहां जैसे ही मालगाड़ी पहुंची तो पता चला इंजन की बैटरी में शार्ट सर्किट से इंजन में आग भड़की है।

    दो घंटे डाउन रही ओएचई लाइन, फायर ब्रिगेड से डाला पानी

    मालगाड़ी के आते ही पहले अग्निशमन यंत्र से आग बुझाने का प्रयास किया गया, लेकिन आग पर काबू नहीं पाया जा सका। इस बीच फायर ब्रिगेड से भी आग बुझाने इंजन पर पानी डाला गया। रेलवे द्वारा ओएचई केबिल को डाउन करके आग पर काबू पाने के लिए फायर ब्रिगेड से पानी डाला गया। करीब दो घंटे की मशक्कत के बाद रेलवे कर्मचारी आग पर काबू पा सके। इंजन पर पानी डालने के चलते यहां व आसपास के स्टेशनों की करीब दो घंटे तक ओएचई लाइन बंद रखी गई। वहीं घटना के संबंध में रूट प्रभावित होने की जानकारी सागर व आसपास के दूसरे स्टेशनों को दी गई।

    भोपाल बिलासपुर सहित एक दर्जन मालगाड़ियां प्रभावित

    भीषण गर्मी के बीच इंजन में लगी आग से रेल यातायात बुरी तरह प्रभावित हुआ। रेलवे सूत्रों के अनुसार भोपाल से बिलासपुर की ओर जाने वाली ट्रेन को करीब 50 मिनट तक सागर स्टेशन पर ही रोका गया। इसके अलावा दो घंटे तक गनेशगंज स्टेशन के पास से गुजरने वाली करीब एक दर्जन से ज्यादा मालगाड़ियों को आसपास के दूसरे स्टेशनों पर रोका गया। लगभग डेढ़ बजे रेल यातायात बहाल हो पाया और जले हुए इंजन को दूसरे इंजन की मदद से गिरवर में रखवाया गया।

    शॉर्ट सर्किट से लगी आग

    इंजन के नीचे बैटरी में आग लगी थी, जिसे प्वाइंट्समेन ने देख लिया और हमें सूचना दी। करीब दो घंटे ओएचई लाइन बंद करके इंजन की आग बुझाई गई और जले हुए इंजन को गिरवर में खड़ा किया गया। इस दौरान कुछ मालगाड़ियां भी प्रभावित हुई हैं। सत्यपाल सिंह, स्टेशन मैनेजर गनेशगंज

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें