Naidunia
    Thursday, October 19, 2017
    PreviousNext

    इंजीनियरिंग के स्टूडेंट राजीव कपूर के शौक ने बना दिया ट्रेवलर फोटोग्राफर

    Published: Sat, 12 Aug 2017 04:03 AM (IST) | Updated: Sat, 12 Aug 2017 04:03 AM (IST)
    By: Editorial Team

    फ्लैग- अंतरराष्ट्रीय फोटो प्रदर्शनी में सागर के राजीव कपूर की फोटो चुनी गई, 16 से 18 अगस्त तक भोपाल में लगेगी फोटो प्रदर्शनी।

    हेडिंग- इंजीनियरिंग के स्टूडेंट राजीव कपूर के शौक ने बना दिया ट्रेवलर फोटोग्राफर

    -शौकिया फोटोग्राफी से शुरुआत करने वाले सागर के राजीव पढ़ाई के साथ शहर-शहर घूमकर कर रहे फोटोग्राफी।

    सागर। नवदुनिया प्रतिनिधि

    सिर पर जूनून सवार हो और दिल में कुछ अलग करने की तमन्ना हो तो व्यक्ति का शौक भी उसे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिला सकता है। ट्रेवलर फोटोग्राफर के रूप में उभर रहे सागर के विठ्ठलनगर वार्ड के राजीव कपूर के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ। उनके द्वारा उतारी गई फोटो को महज दो साल में पहचान मिल गई। भोपाल में आयोजित होने वाली इंटरनेशनल फोटोग्राफी एक्जीबिशन फ्रेम्ड विजन-2 के लिए राजीव की फोटो का चयन किया गया है।

    राजीव कपूर अनजाना सा नाम है, लेकिन कोई दो मत नहीं कि भविष्य में उन्हें देश-विदेशों तक उत्कृष्ट फोटोग्राफर के रूप में पहचान मिल जाए। यह हम नहीं कह रहे बल्कि राजीव का जूनून और लगन बता रही है। राजीव फिलहाल भोपाल के ओरिएंटल इंस्टीट्यूट से इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहे हैं। महज 20 साल उम्र में उन्हें नेचर फोटोग्राफी का शौक लग गया। राजीव के पिता सुशील कपूर ने उन्हें 25 हजार रुपए खर्च कर निकोन कंपनी का डी-3200 कैमरा दिलाया था। राजीव ने पढ़ाई के साथ-साथ फोटोग्राफी शुरू कर दी। कभी सागर झील, कभी राजघाट तो कभी हाईवे पर वे घंटों इंतजार कर प्राकृतिक दृश्यों को कैमरे में कैद करते रहे। फोटोशॉप पर भी हाथ आजमाया। भोपाल से सागर के बीच रेलवे ट्रेक से लेकर गली-गली घूमकर राजीव फोटोग्राफी की ललक को पूरा करने में जुटे रहे।

    स्टिक क्रिएटिविटी में भी उत्कृष्ट नजरिया

    नेचर फोटोग्राफी और रेयर एंगल और कठिन जगहों पर जाकर फोटोग्राफी करने के साथ-साथ राजीव ने स्टिक क्रिएटिविटी फोटोग्राफी भी शुरू कर दी है। विजन के साथ माचिस की तीलियों को जोड़कर मैसेज के साथ आकृति देना और फोटोग्राफ के माध्यम से समाज में संदेश देने का काम प्रारंभ किया है। राजीव की हर फोटो कुछ बोलती सी नजर आती है।

    विदिशा रेल ब्रिज की विहंगम फोटो सिलेक्ट हुई है

    राजीव कपूर ने पिछले दिनों रेलवे ट्रेक पर फोटोग्राफी शुरू की थी। उन्होंने रेलवे के इंजीनियरों से मदद मांगी और भोपाल-विदिशा के बिच रेलवे ब्रिज पर जाकर करीब एक घंटे तक फोटोग्राफ लिए हैं। जोखिम के बीच रेलवे ब्रिज पर खड़े होकर गुजरती ट्रेनों के साथ फोटो लिए थे। इन्हीं में से एक फोटो को अंतरराष्ट्रीय एक्जीबिशन के लिए सिलेक्ट किया गया है।

    विदेशी फोटोग्राफर की तस्वीरें भी लगेंगी

    भोपाल के भारत भवन में 16 ये 18 अगस्त तक फ्रेम्ड विजन-2 के नाम से अंतरराष्ट्रीय फोटो प्रदर्शनी आयोजित हो रही है। राजीव की रेलवे ब्रिज पर खींची गई विहंगम फोटो के साथ एक्जीबिशन में कैलीफोर्निया, यूके और अर्जेंटीना के ख्यातिनाम फोटोग्राफरों की फोटो भी प्रदर्शित होंगी। चयनित फोटो की सेल भी लगाए जाएगी।

    ----------------------------

    फोटो- 1108एसए- 7 सागर। युवा फोटोग्राफर राजीव कपूर

    फोटो- 1108एसए- 8 सागर। इंटरनेशनल फोटोग्राफी एक्जीबिशन के लिए चयनित फोटो।

    और जानें :  # sagar news
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें