Naidunia
    Monday, May 29, 2017
    PreviousNext

    पहले मंदिर में शीश नवाया फिर सुनी ग्रामीणों की फरियाद

    Published: Sat, 22 Apr 2017 03:58 AM (IST) | Updated: Sat, 22 Apr 2017 03:58 AM (IST)
    By: Editorial Team

    सेमली चंद्रावत में संभागायुक्त की ग्राम संसद

    -बर्डिया जागीर नहीं पहुंचे संभागायुक्त

    सरवानिया महाराज। नईदुनिया न्यूज

    संभागायुक्त और कलेक्टर पहले गांव के मंदिर में पहुंचे। जहां भगवान के आगे शीश नवाया। इसके बाद ग्राम संसद में ग्रामीणों की फरियाद सुनी।

    ग्राम पंचायत सेमली चंद्रावत में ग्रामोदय से भारत उदय अभियान के तहत ग्राम संसद लगी। उज्जैन संभाग के नए आयुक्त एमबी ओझा पहली बार जिले के प्रवास पर थे। उन्होंने नीमच विकासखंड की ग्राम पंचायत सेमली चंद्रावत में दस्तक दी। संभागायुक्त कलेक्टर रजनीश श्रीवास्तव और अन्य अधिकारियों के साथ नीमच-सिंगोली रोड स्थित नागेश्वर मंदिर पहुंचे, जहां उनका स्वागत-सत्कार हुआ। संभागायुक्त व कलेक्टर ने पहले नागेश्वर मंदिर में पूजा-अर्चना की। इसके बाद ग्रामीणों से रूबरू हुए।

    जिला पंचायत सीईओ जमुना भिड़े ने ग्राम संसद के उद्देश्य को रखा। कृषि विभाग द्वारा कृषि को लाभ का धंधा बनाने पर आधारित नाटिका प्रस्तुत की गई। महिलाओं व ग्रामीणों की बात सुनने के बाद संभागायुक्त ने किसानों से उन्नातिशील तरीके अपनाने की बात कही। कृषि को लाभ का धंधा बनाने पर जोर दिया। समस्या व योजनाओं की जानकारी के लिए किसान मित्र सेंटर व कृषि विभाग के अधिकारियों से संपर्क करने की बात कही। कलेक्टर ने ग्रामीणों से ग्राम संसद में पहुंचने की अपील की। साथ ही समस्याएं और आवेदन प्रस्तुत करने को कहा और भरोसा दिलाया की अधिकारी ग्रामीणों की हरसंभव मदद करेंगे। जिला पंचायत अध्यक्ष अवंतिका जाट सहित अन्य जनप्रतिनिधि व अधिकारी मौजूद थे।

    बर्डिया जागीर में होता रहा इंतजार

    मनासा। संभागायुक्त को सेमली चंद्रावत के बाद मनासा विकासखंड की ग्राम पंचायत बर्डिया जागीर में ग्राम संसद में शामिल होना था, लेकिन वे वहां पहुंचे ही नहीं। संभागायुक्त और अन्य अधिकारियों का इंतजार होता रहा। एसडीएम और अन्य अधिकारी ग्रामीणों से रूबरू हुए। व्यवस्था संभालते नजर आए। एसडीएम वंदना मेहरा और अन्य अधिकारियों ने ग्रामीणों का पक्ष सुना। साढ़े तीन घंटे के इंतजार के बाद ग्राम संसद की कार्रवाई को पूर्ण किया गया।

    ज्ञापन देने के लिए भी इंतजार

    बर्डिया जागीर में संभागायुक्त को पहुंचना था। इस जानकारी के मिलने पर मनासा कांग्रेस के ब्लॉक अध्यक्ष चंद्रशेखर पालीवाल और अन्य बर्डिया जागीर पहुंचे थे। वे पूरे समय संभागायुक्त का इंतजार करते रहे, लेकिन संभागायुक्त नहीं पहुंचे। हताश होकर कांग्रेसी लौट आए।

    फोटो-

    21एनएमएच-29, सेमली चंद्रावत में ग्राम संसद में मौजूद संभागायुक्त और अन्य अधिकारी।

    21एनएमएच-39, बर्डिया जागीर में महिलाएं और अन्य संभागायुक्त के आने का इंतजार करते रहे।

    ------------

    धरना-प्रदर्शन से दूरी

    मरीजों को बांटे फल

    -कलेक्टोरेट परिसर में पटवारी, राजस्व निरीक्षक व कोटवारों का आंदोलन

    नीमच। नईदुनिया प्रतिनिधि

    धरना-प्रदर्शन से दूरी बनाते हुए पटवारी, राजस्व निरीक्षक और कोटवारों ने प्रदर्शन का नया तरीका अपनाया। उन्होंने जिला अस्पताल पहुंचकर जरूरतमंद मरीजों व परिजनों को फल वितरित किए।

    जिला मुख्यालय पर 10 अप्रैल से पटवारी और राजस्व निरीक्षक हड़ताल पर हैं। अनिश्चितकालीन हड़ताल के क्रम में वे निरंतर आरपार की लड़ाई की बात दोहरा रहे हैं। धरना-प्रदर्शन की बजाय शुक्रवार को पटवारी और राजस्व निरीक्षकों ने जिला अस्पताल पहुंचकर मरीजों व परिजनों को फल वितरित किए। आंदोलन, धरना-प्रदर्शन में सहभागी कोटवार भी इस कार्य में शामिल हुए। कोटवार भी विभिन्ना मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन आंदोलन कर रहे हैं।

    पंचायत सचिव अब भी आंदोलन की राह पर

    जिले की 236 ग्राम पंचायतों के सचिव हड़ताल पर हैं। शुक्रवार को पंचायत सचिव संगठन के आंदोलन का 8वां दिन रहा। नीमच जनपद पंचायत कार्यालय परिसर में सचिवों ने मांगों के समर्थन में आवाज बुलंद की।

    फोटो-

    21एनएमएच-30, जिला अस्पताल में फल वितरित करते पटवारी, राजस्व निरीक्षक व कोटवार।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी