Naidunia
    Saturday, July 22, 2017
    PreviousNext

    पहले शौचालय बनाएं, फिर जारी होगी मकान की दूसरी किस्त

    Published: Sat, 22 Apr 2017 03:58 AM (IST) | Updated: Sat, 22 Apr 2017 03:58 AM (IST)
    By: Editorial Team

    -कमिश्नर ने भोपावर में ग्राम संसद में लिया हिस्सा

    -सीईओ व एकृीकत महिला बाल विकास अधिकारी को फटकारा

    -ग्रामीणों से जानी समस्याएं

    सरदारपुर। नईदुनिया न्यूज

    ग्रामोदय से भारत उदय अभियान अंतर्गत ग्राम भोपावर में आयोजित ग्राम संसद में शुक्रवार को कमिश्नर संजय दुबे, आईपीएस अजयकुमार शर्मा, प्रभारी कलेक्टर और जिला पंचायत सीईओ रवींद्र चौधरी शामिल हुए। कमिश्नर दुबे ने ग्रामीणों से कहा कि ग्राम के हर घर में शौचालय का निर्माण होना अनिवार्य है। प्रधानमंत्री आवास योजनांतर्गत हितग्राही को पहले शौचालय का निर्माण करना होगा, तभी दूसरी किस्त जारी होगी। ग्राम संसद के संबंध में सर्कुलर व आदेश की जानकारी सही नहीं बताने पर कमिश्नर ने सीईओ केके उईके के साथ एक अन्य मामले में एकृीकत महिला बाल विकास अधिकारी कांति निनामा को फटकार लगाई।

    ग्राम संसद में कमिश्नर दुबे आदि अधिकारियों ने ग्रामीणों से चर्चा कर समस्याएं जानी। इस पर ग्रामीणों ने पानी, नाली आदि की समस्या बताते हुए कहा कि ग्राम पंचायत हमें जानकारी नहीं बताती। हमें पंचायत में आने वाली राशि के संबंध में भी नहीं पता। इस पर दुबे ने ग्रामीणों को बताया कि आपकी पंचायत में 12 लाख रुपए आते हैं, जिससे विकास के कार्य किए जाना चाहिए। आप ही बताए क्या कार्य करवाना चाहिए। कुछ ग्रामीणों ने नाली निर्माण, तो कुछ ने पानी की समस्या व कुछ ने धर्मशाला निर्माण आदि के प्रस्ताव रखे।

    नया सर्कुलर से जल समस्या का निपटान करें

    मजरा नयापुरा के रहवासियों ने मुख्य रूप से जल समस्या का समाधान करने की बात कही। इस पर कमिश्नर दुबे ने पीएचई विभाग के प्रभारी एसडीओ व उपयंत्री श्रीमंता डोगरदेवे से नयापुरा की जल समस्या को जाना। वॉटर लेवल कम होने से जल समस्या होना बताई। दुबे ने वैकल्पिक व्यवस्था तथा विभाग के नए सर्कुलर के संबंध में बताते हुए कहा कि वॉटर लेवल ज्यादा नीचे होने से 2 लाख रुपए तक खर्च कर ट्यूबवेल में मोटर लगाकर व्यवस्था को दुरुस्त किया जा सकता है। शीघ्र व्यवस्था दुरुस्त करने के निर्देश दिए।

    एक माह पहले आया नियुक्ति पत्र, फिर विलंब क्यों?

    एकृीकत महिला बाल विकास विभाग द्वारा ग्राम भोपावर में संचालित आंगनवाड़ी केंद्र में रिक्त पड़े कार्यकर्ता के पद को भरने के लिए पूर्व में आवेदन लिए गए थे। नियुक्ति पश्चात ग्राम की एक महिला ने आपत्ति दर्ज करवाई थी। इसे 4 माह से अधिक समय बीतने पश्चात निराकरण नहीं होने पर कमिश्नर के समुख महिला के पति ने शिकायत दर्ज कराई। मौके पर अधिकारी कांति निनामा से कमिश्नर दुबे ने कहा कि पूर्व बैठक में मैंने आदेश दिए थे कि शीघ्र आपत्तियों का निराकरण कर नियुक्तियां की जाए। उसके पश्चात विलंब क्यों? इस पर निनामा ने कहा कि जिला समिति से एक माह पूर्व ही नियुक्ति के संबंध में पत्र आया है। शीघ्र नियुक्ति की जाएगी। इस पर कमिश्नर ने अधिकारी को फटकार लगाई और जिला अधिकारी के साथ दस्तावेज लेकर उपस्थित होने के निर्देश दिए।

    ये समस्याएं भी बताईं

    ग्राम की पुनीबाई ने उसके मकान पर दूसरे लोगों द्वारा मकान बनाने व मारपीट करने तथा एक ग्रामीण ने सीसी रोड पर मकान का कॉलम खड़ा करने की परेशानी बताई। कमिश्नर ने तहसीलदार सुनील जायसवाल और सीईओ को तुरंत सीसी रोड पर हो रहे निर्माण को तोड़ने और पुनीबाई की समस्या सुझलाने के निर्देश दिए॥ उपसरपंच रामेश्वर दांगी, पंचगण, समवन्यक अधिकारी, उपयंत्री, ग्रामीण आदि उपस्थित थे।

    थथथथ

    इर्ीॅािीि घीाचैनज थ

    ऽऽऽऽ

    और जानें :  # sardarpur news
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी