Naidunia
    Thursday, November 23, 2017
    PreviousNext

    किसानों के खाते में भावांतर राशि जमा करने प्रक्रिया तय

    Published: Wed, 15 Nov 2017 08:32 PM (IST) | Updated: Wed, 15 Nov 2017 08:32 PM (IST)
    By: Editorial Team

    सिवनी। नईदुनिया प्रतिनिधि

    राज्य शासन द्वारा भावांतर भुगतान योजना में पंजीकृत किसानों के खातों में भावांतर राशि जमा करवाने की प्रक्रिया निर्धारित कर दी गई है। योजना में खरीफ 2017 में सोयाबीन, मूंगफली, उड़द, मूंग, मक्का में पंजीकृत किसानों द्वारा उत्पादित व मंडी प्रांगण में 16 से 30 अक्टूबर तक बेची गई उपज की पात्रता अनुसार भावांतर की राशि किसानों के खातों में जमा कराई जाएगी। योजना के पोर्टल पर राजस्व व कृषि उपज मंडी समिति द्वारा भरे गए डाटा के आधार पर निर्धारित विक्रय अवधि के मॉडल विक्रय दरों की गणना कर पोर्टल पर दर्ज पंजीकृत किसानों को भावांतर की कुल राशि किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग द्वारा मप्र राज्य कृषि विपणन बोर्ड के खातों में राशि जमा कराई जाएगी। इस राशि को पोर्टल पर उपलब्ध जानकारी के क्रम में गणना अनुसार जिला स्तर की कृषि उपज मंडी समितियो को भुगतान के लिए प्रदाय किया जाएगा।

    25 नवंबर तक कराएं पंजीयन

    सिवनी। भावंतर योजना में किसी कारणवश पंजीयन नहीं करा पाए किसानों को फिर पंजीयन का मौका दिया गया है। 25 नवंबर तक किसानों के लिए पुनः पंजीयन प्रारंभ किया है। पंजीयन पूर्व निर्धारित प्रक्रिया अनुसार होगा। इस अवधि में ऐसे कृषक भी भावंतर योजना का लाभ ले सकेंगे, जिन्होंने पंजीयन ना होने के उपरांत भी अपनी फसलों को मंडी परिसर में विक्रय किया था। ऐसे कृषकों को भी 25 नवंबर तक पंजीयन कराने पर भावंतर योजना का लाभ पूर्व में विक्रय की गयी फसल पर दिया जाएगा। जिले में कुल मक्का के अधिक उत्पादन को दृष्टिगत रखते हुए प्रदेश शासन द्वारा भावंतर उत्पाद 26 क्विंटल प्रति हेक्टेयर को बढ़ाते हुए 43 क्विंटल उत्पाद भावंतर योजना अंतर्गत निर्धारित किया गया है।

    और जानें :  # seoni news
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें