Naidunia
    Tuesday, September 26, 2017
    PreviousNext

    30 महिलाओं को 85-85 हजार का लोन मिला

    Published: Sat, 14 Jan 2017 05:47 PM (IST) | Updated: Sat, 14 Jan 2017 05:47 PM (IST)
    By: Editorial Team

    नेतृत्व प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित

    फोटो 4

    बरघाट। (सिवनी) ब्यूरो

    अजीविका उद्यम विकास कार्यक्रम के तहत गांव धोबिसर्रा बरघाट में नेतृत्व प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन हुआ। इसमें कलेक्टर एस धनराजू, नावार्ड डीडीएम सलिल झोकरकर, एलडीएम सिवनी चौहान सर, नागेश्वरा चैरिटेबल ट्रस्ट के अधिकारीगण जोगेंद्र सिंह लोधी, मोहम्मद साजिद खान एवं जनमखारी व ताखलाखुर्द के सरपंच के साथ बैंकों की और से बैंक ऑफ महाराष्ट्र, आईडीबीआई बैंक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, सेन्ट्रल मध्य प्रदेश ग्रामीण बैंक, स्टैट बैंक ऑफ इंडिया के सभी ब्रांच मैनेजर उपस्तिथ रहे। कलेक्टर की उपस्थिति में सांची दूध संघ द्वारा डेयरी की तीन समितियों को ऋण प्रदान करने के लिए कार्रवाई की गई। इसमें कलेक्टर द्वारा बैंक के अधिकारियों को 31 जनवरी के पहले सभी कार्रवाई पूरी कर बैंकों से ऋण प्रदान करने के लिए कहा गया। जिसमें सेंट्रल मध्य प्रदेश ग्रामीण बैंक द्वारा 30 महिलाओं को 85-85 हजार का लोन स्वीकृत किया गया एवं समूह की महिलाओं से उनकी बचत व लोन लेकर अच्छी किस्म की गाय खरीदने पर मार्गदर्शन दिया गया।

    समूह की महिलाओं से कलेक्टर हुए रूबरू

    इस अवसर पर कलेक्टर समूह की महिलाओं से रुबरु हुए। बातचीत के दौरान गांव की महिलाओं ने कहा कि गांव में डैम का निर्माण किया जा रहा है, जिस वजह से हमें अत्याधिक परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है, जिसे रोकने के लिए महिलाओं ने कलेक्टर के समक्ष अपनी बात रखी। महिलाओं की बात सुनने पर कलेक्टर ने कहा कि इस विषय की जांच के बाद ही इसका निर्णय लिया जाएगा। पूरे कार्यक्रम के दौरान कलेक्टर ने मंच की कुर्सी की बजाए सभा मंच की सीढ़ियों में बैठकर ही चर्चा की, कलेक्टर की इस सादगी से गांव की महिलाएं समेत ग्रामीणजन अधिक प्रभावित हुए।

    और जानें :  # seoni # news
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें