Naidunia
    Wednesday, February 22, 2017
    PreviousNext

    कैशलेस का प्रशिक्षण देकर भुगतान की बारीकी समझाई

    Published: Sat, 14 Jan 2017 06:24 PM (IST) | Updated: Sat, 14 Jan 2017 06:24 PM (IST)
    By: Editorial Team

    बरघाट। (सिवनी) ब्यूरो

    कैशलेस लेन-देन के लिए जनता सभा कक्ष में बरघाट भारतीय स्टेट बैंक के अधिकारियों द्वारा रोजगार सहायकों को प्रशिक्षण दिया गया। इस डिजिटल आर्मी के माध्यम से शहर से लेकर गांवों तक लोगों को कैशलेस लेन-देन के लिए प्रशिक्षित किया जाएगा। उन्होंने कैशलेस लेन-देन के लिए लोगों को प्रशिक्षित करने युवाओं को जोड़ने कहा।

    रोजगार सहायकों के माध्यम से ग्राम पंचायत स्तर तक लोगों को डिजिटल भुगतान के लिए प्रशिक्षण देने की योजना है। प्रत्येक ग्राम पंचायत में 50 लोगों को डिजिटल भुगतान के लिए प्रशिक्षित किया जाएगा। ग्रामीण क्षेत्र में भुगतान के लिए आधार इनेबल्ड भुगतान प्रणाली एवं रूपे कार्ड को बढ़ावा दिया जाएगा। बरघाट भारतीय स्टेट बैंक के सर्विस मैनेजर सुरेंद्र श्रीवास्तव ने राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय परिदृश्य में कैशलेस भुगतान की जानकारी देते हुए कहा कि भारत में 94 प्रतिशत लेन-देन नकद आधारित होता है। जबकि विकसित देशों में 80 से 90 प्रतिशत भुगतान कैशलेस होता है। कालाधन एवं जाली नोट को समाप्त करने के साथ कैशलेश लेन-देन को बढ़ावा देना विमुद्रीकरण का उद्देश्य है। इस अवसर पर बरघाट भारतीय स्टेट बैंक के असिस्टेंट अधिकारी द्वारा डिजिटल भुगतान के विभिन्न तरीकों का प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण में विभिन्न विभागों से आए मॉस्टर ट्रेनर्स ने डिजिटल पेमेंट की यूपीआई, एम एमआईडी, यूएसआईडी, एईपीएस, मोबाइल वॉलेट एवं बैंक कार्ड के माध्यम से भुगतान की बारीकियों को समझाया गया।

    और जानें :  # seoni # news
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी