Naidunia
    Wednesday, March 29, 2017
    PreviousNext

    किसानों को मनमाने बिल, मची खलबली

    Published: Sat, 18 Feb 2017 12:52 AM (IST) | Updated: Sat, 18 Feb 2017 12:52 AM (IST)
    By: Editorial Team

    बुड़वा (शहडोल)। ब्यूरो

    यहां के अधिकांश किसानों को खेतों में पानी की सिंचाई का मनमाना बिल थमा दिया गया है वहीं सालों बाद भेजे गए बिल के साथ नोटिस भी दिया गया है जिसमें किसानों को समयसीमा के अंदर पेमेंट न करने पर 18 प्रतिशत ब्याज के रूप में वसूले जाने की भी बात कही गई है।

    इस बात को लेकर बुड़वा क्षेत्र के किसान परेशान हैं और इस बात को लेकर उन्होंने बाणसागर परियोजना के अधिकारियों से शिकायत करने की ठानी है।

    लोगों ने साफ कहा है कि खेतों में जाकर अमीन या पटवारी स्थिति देखते नहीं हैं और मनमाने तरीके से काम कर रहे हैं। इस तरह भर्राशाही मची हुई है। यह हाल है कि बुड़वा के लोगों ने अभी तक अमीन का चेहरा नहीं देखा कि कौन है जो उनके खेतों में पानी लग रहा है यह देख आया है। सीधे नोटिस जारी कर दिए गए हैं।

    किसानों ने बताया कि 240 रूपये प्रति एकड़ के हिसाब से पैसा एक साल में लिया जाता है लेकिन यहां 20 से 50 हजार रूपये तक के बिल भेज दिए गए हैं जिससे लोगों में बैचेनी है।

    टाइम पर नहीं दिया तो ब्याज

    किसानों ने बताया कि नोटिस में यह भी लिखा हुआ है कि यदि 20 फरवरी तक पैसा जमा नहीं कराया गया तो उनसे 18 प्रतिशत का ब्याज भी रकम पर वसूला जाएगा। इस बात से किसानों को सबसे ज्यादा चिंता हो रही है। रकम चुकाने के लिए पैसे पास में नहीं हैं ब्याज कैसे देंगे।

    यह है किसानों को शिकायत

    यहां के किसानों ने शिकायत की है कि जिनको बिल भेजा गया या फिर नोटिस भेजा गया उनके नाम पते भी गलत लिखे गए हैं।

    किसान सुभाष द्विवेदी ने बताया कि कई लोगों की जाति गलत भरी गई है। द्विवेदी है तो बैस लिख दिया गया। राशि तो मनमाने ढंग से भरी ही गई है। कुल मिलाकर किसानों के हितों की पूरी तरह से अनदेखी की गई है। इस तरह नहीं करना चाहिए।

    और जानें :  #sdl news
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी