Naidunia
    Saturday, November 18, 2017
    PreviousNext

    एनआईसी पर घंटों का काम मिनटों में

    Published: Tue, 18 Jul 2017 03:58 AM (IST) | Updated: Tue, 18 Jul 2017 03:58 AM (IST)
    By: Editorial Team

    - 10 नामांतरण सिर्फ 10 मिनट में, वेब जीआईएस में लग जाते 2 दिन

    - वेब जीआईएस सॉफ्टवेयर बंद होने के बाद एनआईसी पर डाटा अपलोड होना शुरू

    - एक माह में एक साल का डाटा कर पाएंगे अपलोड

    शाजापुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

    प्रदेश के कुल 51 जिलों में से सिर्फ शाजापुर जिले में वेब जीआईएस () सॉफ्टवेयर बंद होने के बाद अब एनआईसी पर अपडेशन शुरू हो गया है। खास बात ये है कि एनआईसी () में 10 नामांतरण करने में सिर्फ 10 मिनट लग रहे हैं, जबकि वेब जीआईसी सॉफ्टवेयर में इसी काम में दो दिन लग जाते। प्रशासनिक सूत्र बताते हैं कि एक साल में जो डाटा वेव जीआईएस सॉफ्टवेयर में अपलोड किया गया, उसे एनआईसी में अपलोड करने में एक महीने का वक्त लगेगा। इसके बाद आसानी से काम होंगे।

    सॉफ्टवेयर का पिछले एक साल से विरोध हो रहा था। प्रदेश के ग्वालियर, नरसिंहपुर, इंदौर, उज्जैन, मुरैना, सीहोर के साथ शाजापुर जिले में अलग ही मामले सामने आ रहे थे। इससे बखेड़ा खड़ा हो रहा था। लिहाजा, 11 जुलाई को ही कमिश्नर लैंड रिकॉर्ड ग्वालियर एमके अग्रवाल ने शाजापुर जिले में वेब जीआईएस को बंद कर फिर से एनआईसी के सॉफ्टवेयर पर काम करने की अनुमति के आदेश जारी किए थे। इसके बाद से ही पटवारी, राजस्व निरीक्षक, नायब तहसीलदार व तहसीलदार एनआईसी पर डाटा अपलोड करने में लगे हैं।

    शाजापुर तहसील क्षेत्र के पटवारी मुकेश चौहान बताते हैं कि घंटों का काम मिनटों में होने लगा है। पूर्व में वेब जीआईएस सॉफ्टवेयर में नामांतरण जैसे काम में दो से तीन घंटे लग जाते थे। जटिल प्रक्रियाएं होने की वजह से परेशानी होती थी किंतु एनआईसी सॉफ्टवेयर में यही काम मिनटों का हो गया है। पटवारी नवीनचंद्र कुंभकार ने बताया एनआईसी पर सभी कार्य आसानी से हो रहे हैं। जिससे समय की बचत हो गई है।

    और जानें :  # web gis software nic
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें