Naidunia
    Monday, June 26, 2017
    PreviousNext

    सरकार की मंशा पर भारी लापरवाही और अव्यवस्थाओं का 'आनंदम'

    Published: Sat, 14 Jan 2017 06:51 PM (IST) | Updated: Sat, 14 Jan 2017 06:51 PM (IST)
    By: Editorial Team
    14janshiv17 14 01 2017

    शिवपुरी। प्रदेश में हाल ही में बनाए गए आनंद विभाग की गतिविधियां मकर संक्रांति के मौके से शुरू की गईं कार्यक्रम के माध्यम से आमजन को जोड़ने और रोचकता के साथ साथ जरूरतमंदों की मदद की परिकल्पना को लेकर शुरू किया गया आयोजन पहले दिन ही अधिकारियों, व्यवस्थापकों की लापरवाही व अव्यवस्थाओं की भेंट चढ़ गया। प्रशासन द्वारा कार्यक्रम आयोजन का स्थान शहर के बाहरी क्षेत्र में सिद्घेश्वर मंदिर प्रांगण में रखा गया। नतीजा यह रहा कि लोग बेहद कम संख्या में यहां पहुंचे। निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक प्रातः 11 बजे भोपाल से प्रसारण के साथ ही आयोजन शुरू होना था लेकिन स्थिति यह थी कि 11ः30 तक आयोजन स्थल पर तैयारियां ही पूरी नहीं हो पाईं। हालात यह बने कि अंतिम समय तक अव्यवस्थाओं को देख मौके पर पहुंचे एसडीएम रूपेश उपाध्याय नगरपालिका के आरआई पूरन कुशवाह पर बिफर गए और गुस्से में उन्होंने आरआई के कान पर लगा मोबाइल छीनकर नीचे पटक दिया। लापरवाही सिर्फ यहीं तक जारी नहीं रही। आयोजन स्थल पर लगाई गई एलईडी पर ठीक 11ः30 बजे से मुख्यमंत्री का संदेश प्रसारित होने लगा लेकिन न केवल कुर्सियां खाली थीं बल्कि मौजूद अधिकारी भी संदेश सुनने की वजाय व्यवस्थाओं को पूरा करने में जुटे नजर आए। प्रभारी कलेक्टर नेहा मारव्या तो 11ः45 पर पहुंची जब सीएम का संदेश भी 15 मिनट का हो चुका था। जब प्रभारी कलेक्टर पहुंची तो मौजूद अधिकारी सीएम का संदेश छोड़कर उनकी आगवानी करने वाहन पर चले गए। कुल मिलाकर सरकार की मंशा पर अधिकारियों द्वारा बरती गई लापरवाही ने पूरे कार्यक्रम को औपचारिक बना छोड़ा।

    न ड्रम लगे थे न आए बॉक्स

    अव्यवस्थाओं और लापरवाही का अंदाजा कार्यक्रम स्थल पर साफ नजर आ रहा था। 11ः30 बजे तक नेकी की दीवार थीम के तहत दान में आने वाली सामग्री जैसे कपड़े, जूते आदि संग्रहित करने के लिए आयोजन स्थल पर ड्रम व बक्से तक नहीं रखे गए थे। यहां तक की जनता को बैठने के लिए लगाई जाने वाली कुर्सियां भी ऐन मौके पर राजस्व विभाग का अमला जमाते नजर आया।

    एलईडी पर सीएम का संदेश, कोई कुर्सी साफ तो कोई जमा रहा था ड्रम

    अव्यवस्थाओं के कारण सीएम का संदेश जब प्रसारित हो रहा था। एलईडी पर नजर होने की वजाय आयोजक व्यवस्थाएं जुटाने में लगे नजर आए। एलईडी के ठीक सामने लगाई गई कुर्सियों पर धूल जम रही थी जिसे ठीक संदेश के समय साफ कराया जा रहा था तो यही हाल बक्से व ड्रम व्यवस्थित रखे जाने को लेकर नजर आई। लापरवाही का आलम यह था कि आनन फानन में कई ड्रम बिना साफ किए रखवा दिए गए जिनमें ऑयल व कैमिकल लगा हुआ था जिससे दान में आने वाले कपड़े भी खराब हो गए।

    विधायक भी पहुंचे लेट, पार्टी कार्यकर्ता नदारद

    प्रशासनिक अधिकारियों के साथ साथ सत्तासीन भाजपा ने भी इस आयोजन को औपचारिकता में सिमटा दिया। आयोजन स्थल पर पोहरी विधायक प्रहलाद भारती सीएम का संदेश शुरू हो जाने के बाद पहुंचे। पार्षद हरिओम नरवरिया को छोड़कर पार्टी के कार्यकर्ता भी कार्यक्रम स्थल पर नहीं पहुंचे। पार्षद नरवरिया न केवल पहुंचे बल्कि उन्होंने कपड़े भी दान किए तो वहीं ब्रदी शर्मा ने 50 नए कंबल वितरण के लिए दान किए।

    हाथों में मेहंदी लगी है क्या, फोन रख...और फेंक दिया मोबाइल

    एसडीएम रूपेश उपाध्याय ने जब आयोजन स्थल पर अव्यवस्थाएं देखीं तो वे आग बबूला हो गए। ठीक उसी समय नगरपालिका के आरआई पूरन कुशवाह मोबाइल पर किसी से बात कर रहे थे जिस पर एसडीएम ने पूरन को सार्वजनिक तौर पर जमकर लताड़ लगाते हुए कहा कि तेरे हाथों में मेहंदी लगी है क्या..., फोन रख...नहीं तो...और इतना कहकर एसडीएम ने कान पर लगा मोबाइल नीचे फेंक दिया। स्थिति और बिगड़ती इससे पहले साथ में मौजूद तहसीलदार नवनीत शर्मा ने मीडिया की उपस्थिति का इशारा किया तब कहीं जाकर एसडीएम के तेबर नरम पड़े। दरअसल एसडीएम इस बात से नाराज थे कि ड्रम, बक्से रात को ही व्यवस्थित ढंग से आयोजन स्थल पर क्यों नहीं रखवाए गए। नतीजे में कार्यक्रम के दौरान सामान आता रहा।

    स्वेटर पा सन्नी के चेहरे पर आई मुस्कान, शांति ने दी दुआएं

    भले ही आयोजन लापरवाही की भेंट चढ़ गया लेकिन यहां गरीबों को उपलब्ध कराए गए गर्म वस्त्र व अन्य सामग्री ने उन्हें आनंद की अनुभूति जरूर कराई। यहां अपनी बहन राधा के साथ पहुंचे सात साल के सन्नी को जैसे ही ड्रम में से अपने व अपनी बहन के नाप के स्वेटर व अन्य कपड़े मिल गए तो उसकी चेहरे की खुशी देखते ही बन रही थी। यहीं हाल वृद्घा शांति का था जिसे शॉल मिला तो वह दुआएं देती नजर आई। उसका कहना था कि मेरे पास शॉल नहीं था और आज यहां शॉल मिलने से ठंड में राहत मिलेगी।

    और जानें :  # shivpuri news
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी